उमा भारती का बड़ा बयान
उमा भारती का बड़ा बयानSocial Media

उमा भारती ने बयान देते हुए कहा- बीआरटीएस कॉरिडोर क्यों बनाए गए इसकी जांच होनी चाहिए

Uma Bharti Statement: आज पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा कि, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव जी की सरकार के द्वारा बीआरटीएस कॉरिडोर हटाने का फ़ैसला व्यवहारिक एवं प्रशंसनीय है।

हाइलाइट्स :

  • भोपाल में बीआरटीएस को तोड़ने के आदेश के बीच उमा भारती का बयान

  • पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने BRTS कॉरिडोर क्यों बनाये गये इसकी जांच हो

Uma Bharti Statement: "मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव जी की सरकार के द्वारा बीआरटीएस कॉरिडोर हटाने का फ़ैसला व्यवहारिक एवं प्रशंसनीय है। बीआरटीएस कॉरिडोर बनाये ही क्यों गए इसकी जाँच होनी चाहिए क्योंकि ऐसी गलतियों से सरकार को सैकड़ों करोड़ रुपये का नुकसान होता है" ये बात आज पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने बयान देते हुए कही है।

भोपाल में बीआरटीएस को तोड़ने के आदेश के बीच पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती का बयान सामने आया है, उमा भारती ने कहा कि, हाल ही में मंत्री बने तथा रतलाम के एक संपन्न जैन व्यवसायी चेतन कश्यप ने अपनी संपत्ति 296 करोड़ घोषित की हैं । अभी कुछ दिनों पहले मध्यप्रदेश के अखबारों में उनकी तारीफ लिखी थी की वो अपना विधायक का वेतन नहीं लेते जो की साल भर का क़रीब 12 लाख होता हैं, 296 करोड़ वाला व्यक्ति अगर सरकार के 12 लाख छोड़ देता है तो इसमें कौनसी बड़ी बात हैं। चेतन कश्यप सरकार को वेतन वापिस करने के बजाय वह राशि अभावग्रस्त लड़कियाँ की शिक्षा पर खर्च करें।

आगे उमा भारती ने कहा कि, हमे यह याद रखना पड़ेगा की सभी विधायक बड़े व्यवसायी नहीं होते और ना वो राजनीति से अपना व्यवसाय बढ़ाते हैं। एक बार सांसद वरुण गाँधी ने कहा था की सांसदों को तनखा एवं पेंशन नहीं लेना चाहिए । वरुण गाँधी ऐसा कर सकते है क्यूँकि वो हज़ारो करोड़ों की पैतृक संपत्ति के मालिक है, अपना सर्वस्व त्यागकर राजनीति के माध्यम से जनसेवा करने वाले जनप्रतिनिधियों को हर तरह की सहूलियत सरकार से मिलनी चाहिए। अगर विधायकों और सांसदों को ईमानदारी की राह पर चलना आसान बनाना है तो चेतन कश्यप जैसे पूँजीपति विधायकों को छोड़कर सभी विधायक की तनखा एवं अन्य भत्ते आज की सभी परिस्थितियों को देखकर मिलना चाहिए।

उमा भारती का बड़ा बयान
BRTS Removed From Bhopal : भोपाल से हटाया जाएगा BRTS, बनाया जाएगा सेंट्रल रोड डिवाइडर

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co