महाराष्ट्र CM का मुंबई में हो रहे सड़क के गड्ढों को लेकर बड़ा ऐलान
महाराष्ट्र CM का मुंबई में हो रहे सड़क के गड्ढों को लेकर बड़ा ऐलान Social Media

महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे का मुंबई में हो रहे सड़क के गड्ढों को लेकर बड़ा ऐलान

मुम्बईवासियों को सड़क के गड्ढों से हो रही परेशानी को देखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इस संशय से निजात दिलाने के लिए एक बड़ा ऐलान किया है।

मुंबई, महाराष्ट्र। इन दिनों भारत के कई राज्य भारी बारिश और उससे आने वाली बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं। इस तेज बारिश से कई तरह के नुकसान होते है। इन्हीं नुकसान में से एक सड़कों पर होने वाले गड्ढे भी है। जिनके कारण सड़क हादसो की सम्भावना भी बढ़ जाती है। ऐसे में इस समस्या से इन दिनों महाराष्ट्र की सितारों की नगरी मुंबई भी परेशान हैं। मुम्बईवासियों को हो रही इस परेशानी को देखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इस संशय से निजात दिलाने के लिए एक बड़ा ऐलान किया है।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का बड़ा ऐलान :

दरअसल, इन दिनों मुंबई में तेज बारिश का कहर जारी है जिससे सड़को पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। हालांकि, अब जल्द ही यह गडढे भर जाएंगे और मुंबई वासियों को इन गड्ढों से निजात मिल सकती है क्योंकि, इस मामले पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने रविवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि, 'आने वाले 2 सालों में मुंबई को गड्ढों से पूरी तरह मुक्ति मिल जाएगी। मुंबई में अतिरिक्त कांक्रीट सड़कों के लिए 7 हजार करोड़ रुपए मंजूर किए गए हैं। जरूरत पड़ने पर इसके अलावा भी राशि दी जाएगी।'

क्यों करना पड़ा यह बड़ा ऐलान :

बताते चलें, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने यह बड़ा एलान हाल ही में बॉम्बे हाईकोर्ट की टिप्पणी के चलते किया है। क्योंकि, 8 जुलाई को बॉम्बे हाई कोर्ट मुंबई के ठाणे नगर निगम में मोहनीश नाम के युवक की मौत के मामले की सुनवाई कर रहा थी। मोहनीश की जान मुंबई में एक सड़क पर हो रहे गड्ढे के चलते हुई थी। इस मामले पर सुनवाई करते हुए ठाणे नगर निगम ने कहा था कि, 'लोग मर रहे हैं और कार्रवाई करने की जिम्मेदारी ठाणे नगर निगम की है।' इस मामले पर वकील रूजू ठक्कर की अवमानना याचिका पर जस्टिस एके मेनन और एमएस कार्णिक की पीठ सुनवाई कर रही थी।

क्या था याचिका में ?

बताते चलें, दायर की गई याचिका में कहा गया था कि, 'नागरिक अधिकारी ने 2018 में हाई कोर्ट के एक आदेश को लागू नहीं किया। आदेश में अदालत ने सभी मुख्य सड़कों के साथ गड्ढों की मरम्मत का निर्देश दिया था। इसके साथ ही खराब सड़कों और गड्ढों से संबंधित नागरिकों की शिकायतों के निवारण के लिए एक समान तंत्र तैयार करने का भी आदेश था।' वहीं, सुनवाई करते हुए पीठ ने कहा था कि, 'सड़क पर हम गड्ढों को नहीं रोक सकते, लेकिन यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ऐसे हादसों में मौत न हो। पीठ ने ठाणे के गोडबंदर रोड पर हाल ही में हुए एक हादसे का उल्लेख किया था, जहां एक व्यक्ति को राज्य परिवहन की बस ने कुचल दिया था क्योंकि उसकी बाइक गड्ढे में गिर गई थी।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co