मेघालय सरकार ने 7 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं की बंद
मेघालय सरकार ने 7 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं की बंद Social Media

मेघालय सरकार ने 7 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं की बंद, जानें क्‍या है कारण

मेघालय सरकार द्वारा 7 जिलों में 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद करने का फैसला किया है, क्‍योंकि असम-मेघालय सीमा से लगे मुकरोह इलाके में फायरिंग की घटना हुई।

मेघालय, भारत। हाल ही में मेघालय से बड़ी खबर सामने आ रही है कि, यहां की सरकार ने मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद करने का फैसला लिया है।

7 जिलों 48 घंटों के लिए बंद रहेंगी इंटरनेट सेवाएं :

दरअसल, असम-मेघालय सीमा से लगे मुकरोह इलाके में फायरिंग की घटना होने पर मेघालय सरकार ने यह फैसला लिया और उनके इस फैसले के चलते मोबाइल इंटरनेट सेवाएं 7 जिलों में 48 घंटों के लिए बंद रहेंगी।

यह है इंटरनेट सेवा बंद रहने वाले 7 जिले :

मेघायल में जिन 7 जिलों में इंटरनेट बंद किया गया है, उन जिलों के नाम यह है- वेस्ट जयंतिया हिल्स, ईस्ट जयंतिया हिल्स, ईस्ट खासी हिल्स, री-भोई, ईस्टर्न वेस्ट खासी हिल्स, वेस्ट खासी हिल्स और साउथ वेस्ट खासी हिल्स जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद की है।

फायरिंग की घटना में 4 लोगों की मौत :

बताते चलें कि, असम-मेघालय सीमा से लगे मुकरोह इलाके में आज मंगलवार को फायरिंग की घटना हुई और पश्चिम कार्बी आंगलोंग जिले में असम पुलिस की गोलीबारी के चलते करीब 4 लोगों की मौत होने की पुष्टि हुई है। तो वहीं, राज्य में तनावपूर्ण स्थिति है। मंगलवार सुबह राज्य के तीन लोगों के मारे जाने के बाद राज्य के सात जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं।

असम पुलिस और मेघालय के लोगों के बीच झड़प :

पुलिस सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार, ''कार्बी अगलोंग जिला वन अधिकारियों ने मंगलवार तड़के अवैध लकड़ी का परिवहन कर रहे एक ट्रक को जब्त करने के बाद असम पुलिस और मेघालय के लोगों के एक समूह के बीच झड़प हो गई।'' पश्चिम कार्बी आंगलोंग के एसपी इमदाद अली ने कहा कि, ट्रक को मेघालय सीमा पर असम वन विभाग की टीम ने सुबह करीब 3 बजे रोका। जैसे ही ट्रक ने भागने की कोशिश की, वन रक्षकों ने उस पर फायरिंग कर दी और उसका टायर पंचर कर दिया। चालक, एक सहायक और एक अन्य व्यक्ति को पकड़ लिया गया, जबकि अन्य भागने में सफल रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co