Raj Express
www.rajexpress.co
Mental Imbalance due to PUBG
Mental Imbalance due to PUBG|Kavita Singh Rathore -RE
भारत

शाजापुर: पब्जी खेलते हुए युवक का मानसिक संतुलन बिगड़ा

पब्जी से कई लोगों की जान जाने व बीमार पड़ने के कई मामले पहले भी सामने आ चुके है, अब एक और ऐसा ही मामला सामने आया है। अफ़सोस की बात तो यह है कि, इतनी घटनाओं के सामने आने के बाद भी लोग बाज नहीं आते हैं।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • पब्जी से जुड़े कई मामले आ चुके है सामने

  • पब्जी खलने से बिगड़ा मानसिक सन्तुलन

  • सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ने जिला अस्पताल रेफर किया

राज एक्सप्रेस। पब्जी (PUBG) खेलते हुए कई लोगों की जान गई तो, कई लोगों के बीच विवाद हुए, ऐसी खबरें हम पहले भी कई बार सुन चुके हैं अब पब्जी खेल से एक जुड़ी एक खबर और सामने आई है। जी हां, शाजापुर जिले के मोहन बड़ोदिया के एक स्थान पर मोबाइल द्वारा एक खतरनाक बीमारी होने का मामला नज़र में आया है। यह बीमारी मोबाइल का अधिक प्रयोग करने से हो जाती है।

क्या था मामला :

मोहन बड़ोदिया में स्थित अंसारी मोहल्ले में रहने वाला 19 साल का शबीर अत्यधिक मोबाइल चलाता था, वह घंटों-घंटों मोबाइल में पब्जी खेलता रहता था, जिसके कारण उसका मानसिक सन्तुलन बिगड़ (Mental Imbalance due to PUBG) गया, जब उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, बड़ोदिया लाया गया, तब उसका ईलाज प्रारंभ हुआ परन्तु तबियत बिगड़ती देख और उचित उपचार न देने की स्थिति देख सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। शबीर को तुरंत ही जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया और उचित उपचार मुहैया कराया गया।

बीमारी के लक्ष्ण :

शबीर के चाचा ने बताया कि, शबीर दिन भर ही पब्जी खेलता रहता था, जिसके कारण उसकी तबियत ख़राब हो गई, बीमार पड़ने के बाद वो दिन भर खेल की बातें करता रहता था और घरवालों को अपशब्द भी कहने लगा था।

डॉक्टरों ने बताया :

जिला अस्पताल में भर्ती कराने के बाद वहां के डॉक्टरों ने बताया कि, इस तरह की बीमारी लगातार गेम खेलते रहो और इसी दौरान पानी पीते रहने पर पेशाब नहीं करने से सीधा असर मस्तिष्क पर होता है जिससे युवक का मानसिक संतुलन बिगड़ जाता है और यही शबीर के साथ भी हुआ है, डॉ ने बताया कि, उन्होंने नली डालकर शाबीर के शरीर से पेशाब को बहार निकाला है जिससे उसकी तबीयत में सुधार हुआ है।