Raj Express
www.rajexpress.co
Howdy Modi
Howdy Modi|Kavita Singh Rathore -RE
भारत

ह्यूस्टन में आयोजित "हाउडी मोदी प्रोग्राम" में शिरकत करेंगे मोदी

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के ह्यूस्टन में होने वाले "हाउडी मोदी प्रोग्राम" में पहुंच कर डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात कर, वहां रहने वाले 50,000 से भी अधिक भारतीयों को सम्बोधित करेंगे।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • 22 सितंबर को ह्यूस्टन में हाउडी मोदी प्रोग्राम का आयोजन

  • प्रोग्राम में मोदी करेंगे शिरकत

  • 50,000 भारतीय लोगों को सम्बोधित करेंगे मोदी

  • ट्रंप से मुलाकात कर कई मुद्दों पर करेंगे बात

राज एक्सप्रेस। रविवार 22 सितंबर को अमेरिका के ह्यूस्टन में होने वाले हाउडी मोदी (Howdy Modi) प्रोग्राम में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इन्तजार में अमेरिका के भारतीय देशवासी पलके बिछाये बैठे हैं, इस प्रोग्राम में मोदी अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे, साथ ही उन 50,000 भारतीय लोगों को सम्बोधित करेंगे जो, अमेरिका में रहते हैं। आपको बता दें कि, यह दोनों नेताओं की पिछले तीन महीनों में तीसरी बैठक होगी, जिसमें दोनों एक साथ भाग लेंगे। इस प्रोग्राम के अगले ही दिन अर्थात सोमवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से मुलाकात करेंगे।

कैसा रहेगा मोदी और ट्रंप का कार्यक्रम :

  • प्रधानमंत्री मोदी रविवार (22 सितंबर) को ह्यूस्टन में एनआरजी स्टेडियम में अमेरिका में रहने वाले भारतीयों को सम्बोधित करेंगे।

  • 22 सितंबर को मोदी "हाउडी मोदी" में शिरकत कर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे।

  • 23 सितंबर को मोदी अमेरिकी ऊर्जा कंपनियों से मुलाकात कर ऊर्जा क्षेत्र में बड़े निवेश पर बात करेंगे।

  • 24 सितंबर को न्यूयॉर्क में पीएम मोदी ट्रंप के साथ मीटिंग करेंगे।

  • हाउडी मोदी प्रोग्राम के बाद ट्रंप ओहियो जाकर आस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मोरिसन से मुलाकात करेंगे।

  • ट्रंप ऑस्ट्रेलिया के प्रैट इंडस्ट्री जाकर यूएस इकोनॉमिक रिलेशनशिप पर बात करेंगे।

  • डोनाल्ड ट्रंप पाकिस्तान के पीएम इमरान खान, पोलेंड के राष्ट्रपति आंद्ररेज सेबस्तिआन, सिंगापुर के पीएम, इजिप्ट के राष्ट्रपति, साउथ कोरिया के राष्ट्रपति और न्यूजीलैंड के पीएम से मुलाकात करेंगे।

  • 24 सितंबर को ट्रंप यूएन जनरल असेंबली को संबोधित करेंगे।

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र के लिए प्रधानमंत्री मोदी 21 से 27 सितंबर तक अमेरिका में ही होंगे।

पंजीकरण करने वालों की रिकॉर्ड संख्या :

ह्यूस्टन में होने वाले कार्यक्रम हाउडी मोदी के लिए 3 महीने पहले से पंजीयन चालू हो गए थे, इसमें भारतीय-अमेरिकियों ने अपना पंजीकरण कराया इस कार्यक्रम के लिए जो पंजीकरण हुए है, उसकी रिकॉर्ड संख्या 50,000 से अधिक पहुंच गई है। इस रिकॉर्ड संख्या को देख कर ट्रंप ने कहा कि, ''उनके रैली में शामिल होने की घोषणा के बाद इस कार्यक्रम के लिए भीड़ और बढ़ गई है। उन्होंने यह भी कहा कि, उनके भारत के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं।''

क्या है हाउडी मोदी प्रोग्राम :

"हाउडी मोदी प्रोग्राम" का मकसद बस इतना ही है कि, दोनों देशों के अधिकारियों के बीच तनावपूर्ण व्यापार पर वार्ता की जा सके। Howdy Modi शब्द Howdy शब्द से लिए गया है, जिसमें Howdy का मतलब How do you do है, यानि कि आप कैसे हैं? इस प्रोग्राम के माध्यम से मोदी भारतीय-अमेरिकियों से उनके हाल जानने की कोशिश करेंगे। यह प्रोग्राम अमेरिका के ह्यूस्टन में मुख्य रूप से मोदी के लिए आयोजित किया जाएगा, इस प्रोग्राम के दौरान एनआरजी स्टेडियम में अमेरिका में रहने वाले 50 हजार से ज्यादा भारतीय हिस्सा लेंगे, इतना ही नहीं इस प्रोग्राम में ट्रंप के साथ अमेरिका के कई बड़े दिग्गज नेता भी शामिल होंगे। यह प्रोग्राम अमेरिका और भारत के रिश्तों को और अधिक मजबूती देने के बहुत काम आएगा।

प्रोग्राम का आयोजन :

अमेरिका में इस हाउडी मोदी प्रोग्राम का आयोजन एक गैर लाभकारी संगठन टेक्सास इंडिया फोरम द्वारा किया जा रहा है। यह प्रोग्राम सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 1 बजे तक चलेगा। इस प्रोग्राम में शामिल होने वालो के लिए एंट्री गेट सुबह 7:30 बजे से खुल जाएंगे और सुबह 10 बजे यह गेट बंद भी कर दिए जाएंगे, परन्तु भारतीय समय के अनुसार देखे तो, यह प्रोग्राम शाम 7:30 बजे शुरू होगा और रात 10:30 बजे तक चलेगा। हाउडी मोदी प्रोग्राम में 1,000 से अधिक वॉलिंटियर्स तैनात होंगे, यह प्रोग्राम 650 टेक्सास स्थित वेलकम पार्टनर ऑर्गनाइजेशन के सहयोग से आयोजित किया जाएगा। आपको बता दे, टेक्सास इंडिया फोरम का काम भारत और अमेरिका के बीच सहयोग को बढ़ाना है।

डोनाल्ड ट्रंप की शिकायत :

डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ समय पहले अपनी बात रखते हुए शिकायत जताई थी कि, भारत में अमेरिकी से जाने वाले उत्पादों पर जो शुल्क लगाया जाता है, वो अब स्वीकार नहीं किया जाएगा। इस मुद्दे को लेकर दोनों देशों के बीच हल्का-फुल्का व्यापारिक तनाव बढ़ गया है। अब उम्मीद की जा रही है कि, इस प्रोग्राम में इस मुद्दे पर बात की जाएगी, हालांकि पीएम मोदी और ट्रंप ह्यूस्टन में होने वाली मुलाकात से पहले व्यापार समझौते को अंतिम रूप देने की कोशिश कर रहे हैं। अमेरिकी दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन से सम्मानित किया जाएगा।