पीएम विश्वकर्मा योजना में 1.40 लाख से अधिक आवेदन प्राप्त
पीएम विश्वकर्मा योजना में 1.40 लाख से अधिक आवेदन प्राप्तRaj Express

पीएम विश्वकर्मा योजना में 1.40 लाख से अधिक आवेदन प्राप्त

नारायण राणे ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में पीएम विश्वकर्मा योजना की सफलता की जानकारी देते हुए लिखा कि पीएम विश्वकर्मा योजना प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी दूरदर्शी दृष्टि का परिणाम है।

हाइलाइट्स :

  • पीएम विश्वकर्मा योजना प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी दूरदर्शी दृष्टि का परिणाम है।

  • योजना के माध्यम से विश्वकर्मा भाइयों और बहनों को प्रशिक्षण, टूल किट और ऋण प्रदान किया जाएगा।

  • योजना के तहत 18 प्रकार के कारीगरों और शिल्पकारों को लाभ मिलेगा।

नई दिल्ली। केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे ने बुधवार को कहा कि दस दिनों के भीतर, पीएम विश्वकर्मा योजना को 1.40 लाख से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं।

नारायण राणे ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में पीएम विश्वकर्मा योजना की सफलता की जानकारी देते हुए लिखा कि पीएम विश्वकर्मा योजना प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी दूरदर्शी दृष्टि का परिणाम है। योजना के शुभारंभ के दस दिनों के भीतर 1.40 लाख से अधिक आवेदनों का आना योजना की सफलता और महत्व का प्रमाण है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पीएम विश्वकर्मा योजना, हमारे सामाजिक और आर्थिक रूप से वंचित विश्वकर्मा भाइयों और बहनों के व्यापक विकास के लिए एक मील का पत्थर साबित होगी और यह उनकी खोई हुई पहचान को बहाल करेगी।

इस योजना के माध्यम से विश्वकर्मा भाइयों और बहनों को प्रशिक्षण, टूल किट और ऋण प्रदान किया जाएगा। प्राप्त आवेदनों का सफलतापूर्वक सत्यापन कर सभी योजना का लाभ विश्वकर्मा भाई-बहनों को दिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि इस योजना का उद्देश्य पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों की उत्पादन क्षमता को बढ़ाना और उनके उत्पादों को घरेलू और वैश्विक बाजारों तक पहुंचाना है। योजना के तहत 18 प्रकार के कारीगरों और शिल्पकारों को लाभ मिलेगा। लाभार्थियों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा और उन्हें प्रशिक्षण के दौरान 500 रुपये की दैनिक वृत्ति मिलेगा। इसके अलावा टूल किट खरीदने के लिए 15,000 रुपये की सहायता दी जाएगी। लाभार्थी तीन लाख तक के ऋण के लिए भी पात्र होंगे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co