Murthal Four Dhabas 12 Employee Corona Positives
Murthal Four Dhabas 12 Employee Corona Positives|Syed Dabeer Hussain- RE
भारत

सोनीपत: मुरथल के चार ढाबों में कोरोना संक्रमितों के मिलने से मचा हड़कंप

सोनीपत: दिल्ली से सटे हरियाणा के मुरथल के 4 ढाबों में एक साथ 12 कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने की खबर से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

सोनीपत। पूरी दुनिया सहित भारत में कोरोना के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। भारत पूरी दुनिया में दूसरा सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश बन गया हैं। यहां, कोरोना के मामले लगातार बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं। इसी बीच मुरथल के चार ढाबों से 12 कोरोना पॉजीटिव लोगों के मिलने से हड़कंप मच गया है। बता दें, यहां हाल ही में एक मशहूर सुखदेव ढाबे से भी 65 कोरोना पॉजीटिव लोग मिले थे। जो कि, ढाबे में कार्य करने वाले कर्मचारी ही थे।

ढाबों में कोरोना पॉजीटिव लोगों के मिलने से मचा हड़कंप :

दरअसल, बीते दिनों मुरथल के मशहूर सुखदेव ढाबे से एक साथ 65 कर्मचारियों के कोरोना पॉजीटिव होने की खबर सामने आई थी। वहीं, अब दिल्ली से सटे हरियाणा के मुरथल के 4 ढाबों में एक साथ 12 कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने की खबर से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया हैं क्योंकि इन ढाबों की गिनती इस इलाके के सबसे बड़े और जाने माने ढाबों में होती है। फिलहाल इन सभी ढाबों को एहतियात के तौर पर बंद कर अगले आदेश तक के लिए सील कर दिया गया है और ढाबों में सैनिटाइजेशन का कार्य जारी है। इन चारों ढाबों के नाम पहलवान, आहूजा, झिलमिल और साहब है।

खबर सामने आते ही सभी ढाबे किए सील :

देश को सरकार द्वारा अनलॉक करते ही सभी होटल-रेटोरेंट्स और ढाबे भी अब खुलने लगे हैx। ऐसे में होटलों के खुलने के बाद लोग वहां जाकर खाना-पीना करना उचित समझ रहे हैं। ऐसे ही इन चारों ढाबों में भी खासी भीड़ देखी जाती थी, परंतु इस खबर के सामने आते ही सभी ढाबे सील किए गए हैं और इस पूरे इलाके में सन्नाटा पसरा हुआ है। खबरों के अनुसार, इन ढाबों में पाए गए कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 12 है। यह सभी ढाबों में कार्य करने वाले कर्मचारी ही हैं।

कुबेर होटल और हाल भी सील :

इस इलाके के इन चार पहलवान, आहूजा, झिलमिल और साहब ढाबों के साथ ही कुबेर होटल और कनक गार्डन बैंक्वेट हाल भी सील कर दिया गया है। क्योंकि, अब यहां सरकार द्वारा लागू किये गए कोरोना के लिए निर्धारित नियमों का पूर्ण रूप से पालन किया जाएगा और इन ढाबों को कई दिनों तक बंद रखा जाएगा।

उपायुक्त के दिशा-निर्देश :

यह मामला सामने आने के बाद DRDA सभागार में एक ढाबा संचालकों की बैठक आयोजित की गई जिसमें उपायुक्त श्यामलाल पूनिया ने इस मामले पर चर्चा करते हुए बताया कि, 'रेस्तरां-ढाबों के कर्मचारियों को कोरोना से बचाव की ट्रेनिंग लेनी होगी। नो स्मोकिंग-नो फोटोग्राफी सहित, क्या करें क्या न करें के पोस्टर हर जगह लगाने होंगे। आगंतुकों का रजिस्टर में पूर्ण विवरण दर्ज करना होगा। प्रयोग किए मास्क भी नियमानुसार नष्ट करेंगे होंगे।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co