सरकार के मुखिया के रूप में मोदी 20वें साल में प्रवेश- हर साल रहा खास

भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री मोदी सरकार के मुखिया के रूप में 20वें साल में प्रवेश, गुजरात के CM से देश के PM तक के कार्यकाल में कोई ब्रेक नहीं लिया। 2001 से 2020 तक PM ने हर साल 20 बड़े काम किए हैं...
सरकार के मुखिया के रूप में मोदी 20वें साल में प्रवेश- हर साल रहा खास
सरकार के मुखिया के रूप में मोदी 20वें साल में प्रवेश- हर साल रहा खासSyed Dabeer Hussain - RE

भारत। देश दुनिया में धमाल व कमाल कर सर्वाधिक लोकप्रिय नेता भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई दहलीज पर कदम रख रहे हैं। दरअसल, PM मोदी राज्य और केंद्र सरकारों के प्रमुख के तौर पर आज बुधवार 7 अक्‍टूबर को 20वें साल में प्रवेश कर गए हैं।

बिना कोई ब्रेक के 20वें साल में प्रवेश :

देश में जनता द्वारा चुनी गई सरकार (केंद्र या राज्य या फिर दोनों मिलाकर) में सर्वोच्च पद पर सबसे ज्यादा वक्त और बिना कोई ब्रेक लिए 20 साल से देश की सेवा में लगे हैं, नेता के करियर के लिहाज से PM मोदी ने एक और मिसाल पेश कर दी है। गुजरात के मुख्यमंत्री से देश के प्रधानमंत्री तक के 20 साल के कार्यकाल में नरेंद्र मोदी द्वारा हर साल 20 बड़े काम किए हैं, जो आप यहां देख सकते हैं-

एक नजर मोदी द्वारा हर साल किए खास कार्य पर :

  • PM मोदी ने वर्ष 2020 में सही समय पर पूर्ण लॉकडाउन लगाकर कोरोना को महामारी बनने से रोका। जन-जन तक बीमारी से लड़ने की जानकारी पहुंचाई और लोगों को जागरुक किया।

  • नरेन्द्र मोदी वर्ष 2019 में प्रचंड जीत के साथ लागातार दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री बने।

  • वर्ष 2018 में PM मोदी ने दुनिया की सबसे उंची प्रतिमा स्टेचू ऑफ़ यूनिटी राष्ट्र को समर्पित किया गया।

  • वर्ष 2017 में PM मोदी ने एक देश एक कर प्रणाली, GST लागू किया गया।

  • वर्ष 2016 में भ्रष्टाचार, काले धन और जाली मुद्रा से लड़ने के लिए डीमोनेटाईजेशन किया गया और डिजिटल लेन-देन के लिए BHIM/UPI लॉन्च किया गया।

  • वर्ष 2015 में 21 जून को दुनिया भर में पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया।

  • वर्ष 2014 में 26 मई को श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत के 15वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।

  • वर्ष 2013 में 13 सितम्बर को भाजपा की संसदीय बोर्ड की बैठक में नरेन्द्र मोदी को पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री पद का उमीदवार बनाने का निर्णय लिया गया।

  • वर्ष 2012 में 26 दिसम्बर को नरेन्द्र मोदी चौथी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने।

  • वर्ष 2011 में 17 सितम्बर को सद्भावना मिशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें लाखों लोगों ने हिस्सा लिया।

  • वर्ष 2010 में गुजरात के 50 साल के इतिहास को अगले 1,000 साल के लिए सहेजने के लिए 90 kg के टाईम कैप्सूल में किया सील।

  • वर्ष 2009 में प्रदेश की आम लोगों के जीवन को आसन बनाने के लिए ई-ग्राम, विश्व-ग्राम योजना का किया उद्घाटन।

  • वर्ष 2008 में गुजरात की धरती पर टाटा नैनो का किया स्वागत, कार मैन्युफैक्चरिंग का गुजरात हब बना।

  • वर्ष 2007 में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पार्टी ने तीसरा विधान सभा चुनाव जीता और श्री नरेद्र मोदी गुजरात के सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले CM बने।

  • वर्ष 2006 में नरेन्द्र मोदी ने गुजरातवासियों को ज्योतिग्राम योजना का तोहफा दिया।

  • वर्ष 2005 में राज्य में शिशु लिंग अनुपात में कमी को रोकने के लिए बेटी बचाओ अभियान लांच किया गया। अभियान के बाद राज्य में बेटियों की जन्म दर में वृद्धि देखी गई।

  • वर्ष 2004 में बेटियों की पढ़ाई को बढ़ावा देने के लिए कन्या केलवणी योजना और शाला प्रवेशोत्सव प्रोग्राम की शुरुआत की गई।

  • वर्ष 2003 में पहले 'वाइब्रेंट गुजरात' ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया गया। समिट के दौरान 14 बिलियन डॉलर के 76 MoU साइन किये गये।

  • वर्ष 2002 में नरेन्द्र मोदी ने गुजरात विधान सभा चुनाव की अगुवाई की और उनके नेतृत्व में गुजरात बीजेपी के इतिहास में चुनाव में रिकॉर्ड-तोड़ सीटें आयीं।

  • 20 साल पहले यानी वर्ष 2001 में 7 अक्टूबर को नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपने ट्वीटर पर वीडियो शेयर कर वर्ष 2001 से 2020 तक हर साल में किया गया महत्‍वपूर्ण कार्य को दर्शाया है।

बता दें, भारत के राजनीतिक इतिहास में 7 अक्टूबर, 2001 की तारीख एक मील का पत्थर है, क्‍योंकि नरेंद्र मोदी ने आज ही के दिन यानी 7 अक्टूबर, वर्ष 2001 में गुजरात में मुख्यमंत्री के पद की शपथ ली थी और 12 साल 227 दिन तक CM रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co