राष्ट्रपति ने स्वीकार किया हरसिमरत का इस्तीफा- नरेंद्र तोमर को सौंपा प्रभार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है और उनकी जगह नरेंद्र सिंह तोमर को खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है।
राष्ट्रपति ने स्वीकार किया हरसिमरत का इस्तीफा- नरेंद्र तोमर को सौंपा प्रभार
राष्ट्रपति ने स्वीकार किया हरसिमरत का इस्तीफा- नरेंद्र तोमर को सौंपा प्रभारPriyanka Sahu -RE

नई दिल्ली: शिरोमणि अकाली दल (SAD) की नेता हरसिमरत कौर बादल ने खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय के पद से इस्‍तीफा दे दिया, जिसे आज शुक्रवार को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्‍वीकार कर लिया है और उन्‍होंने इस मंत्रालय का अतिरिक्‍त प्रभार कैबिनेट मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को सौंपा है।

अब नरेंद्र सिंह तोमर संभालेंगे मंत्रालय का प्रभार :

राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सलाह लेने के बाद राष्ट्रपति ने केंद्रीय मंत्री परिषद से हरसिमरत का इस्तीफा संविधान के अनुच्छेद 75 के खंड (2) के तहत स्वीकार किया है। भाजपा की सहयोगी शिरोमणि अकाली दल इस अध्यादेश का लगातार विरोध कर रही है। संसद में विपक्ष के हंगामे के बावजूद ध्वनिमत से दोनों कृषि विधेयक पारित हो गए।

इसके अलावा इस बयान में ये भी बताया गया है कि, प्रधानमंत्री के सुझाव पर राष्ट्रपति ने कैबिनेट मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है,अब नरेंद्र सिंह तोमर के पास कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, ग्रामीण विकास मंत्रालय और पंचायती राज मंत्रालय सहित कई विभाग हैं।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का यह पहला इस्तीफा :

बताते चले, मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का यह पहला इस्तीफा है और हरसिमरत कौर बादल का यह इस्तीफा पंजाब और हरियाणा में किसानों के विरोध प्रदर्शन के बीच आया है।

हरसिमरत कौर ने क्‍यों दिया इस्तीफा ?

बता दें कि, लोकसभा ने गुरुवार को कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्द्धन और सुविधा) विधेयक, कृषक (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन समझौता और कृषि सेवा पर करार विधेयक पारित कर दिया था। हरसिमरत कौर ने कृषि क्षेत्र से जुड़े इन 3 विधेयकों के विरोध में ही गुरुवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफ़ा देने के बाद हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट में लिखा, "मैंने केंद्रीय मंत्री पद से किसान विरोधी अध्यादेशों और बिल के ख़िलाफ़ इस्तीफ़ा दे दिया है, किसानों की बेटी और बहन के रूप में उनके साथ खड़े होने पर गर्व है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co