कड़ाके की ठंड, कोहरे और शीतलहर के बीच मनेगा नए साल का जश्‍न
कड़ाके की ठंड, कोहरे और शीतलहर के बीच मनेगा नए साल का जश्‍नसांकेतिक चित्र

Weather Update: कड़ाके की ठंड, कोहरे और शीतलहर के बीच मनेगा नए साल का जश्‍न

दिल्ली-एनसीआर के अधिकतर हिस्से शीत लहर और भीषण ठंड होने के कारण साल 2023 के जनवरी की शुरुआत तेज सर्दी का सितम रहने की उम्‍मीद है।

दिल्‍ली, भारत। जाते-जाते साल और नए साल के आगमन से ठीक पहले दिल्ली-NCR का अधिकतर हिस्सा शीत लहर और कड़ाके की ठंड का सामना कर रहा है। ऐसे में उत्‍तर भारत नए साल पर कड़ाके की ठंड, कोहरा व शीत लहर के साथ नए साल का जश्‍न मनेगा।

बताया जा रहा है कि, दिल्ली-एनसीआर के अधिकतर हिस्से शीत लहर और भीषण ठंड होने के कारण साल 2023 के जनवरी की शुरुआत तेज सर्दी का सितम रहने की उम्‍मीद है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक, दिल्ली सहित पूरा उत्तर भारत अभी पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में है और खाड़ी क्षेत्र से बहने वाली गर्म नम हवाओं के कारण लोगों को ठंड से हल्की राहत मिली है।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार-

  • 31 दिसंबर से राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान में गिरावट शुरू होने की संभावना है। शनिवार को न्यूनतम तापमान घटकर 6 डिग्री सेल्सियस हो जाएगा।

  • जबकि सोमवार (2 जनवरी) को पारा 4 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़कने के आसार हैं।

  • इसके अलावा 1 से चार जनवरी तक दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में घना कोहरा छाये रहने और शीतलहर चलने के आसार हैं एवं आज अधिकतम तापमान 23.7 डिग्री रहा जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है।

  • मौसम विभाग की मानें तो अगले तीन से चार दिन सुबह के समय दिल्ली, चंडीगढ़ और हरियाणा में घने से घना कोहरा छाए रहने का अनुमान है।

येलो अलर्ट किया गया जारी :

बता दें कि, मौसम विभाग ने एक से दो जनवरी को शीत लहर चलने व सर्द दिन रहने का येलो अलर्ट जारी किया है। उत्तर पश्चिम भारत में यह शीत लहर होगी, जिसका असर पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में देखने को मिलेगा। मौसम विज्ञानियों ने कहा कि, उत्तर-पश्चिम में सर्द हवाओं और कोहरे से धूप की तीव्रता में कमी के कारण उत्तर-पश्चिम भारत में पिछले दिनों में शीत लहर और सामान्य से कम तापमान का दौर देखने को मिला था। पश्चिमी विक्षोभ के कारण 25-26 दिसंबर को पहाड़ों में फिर से बर्फबारी हुई जबकि, पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव खत्म होने के बाद मैदानी इलाके सर्द उत्तर-पश्चिमी हवाओं की गिरफ्त में आ गए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co