PFI के ठिकानों पर NIA-ED की बड़ी कार्रवाई
PFI के ठिकानों पर NIA-ED की बड़ी कार्रवाई Social Media

PFI के ठिकानों पर NIA-ED की बड़ी कार्रवाई, की छापेमारी एवं 100 से ज्यादा कैडर किये गिरफ्तार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आज सुबह आतंकवाद के खिलाफ अभियान में बड़ी कार्रवाई करते हुए 100 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की है।

दिल्‍ली, भारत। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) का कहीं न कहीं छापेमारी का दौर जारी रहता है,आज गुरूवार सुबह-सुबह से NIA व ED ने आतंकवाद के खिलाफ अभियान में बड़ी कार्रवाई की है।

100 से अधिक ठिकानों पर की छापेमारी :

दरअसल, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उससे जुड़े लिंक पर देशभर में छापेमारी की जा रही है। इस दौरान करीब 100 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की गई है। बताया जा रहा है कि, जांच एजेंसियों ने करीब 10 राज्यों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी PFI पदाधिकारियों के आवास और दफ्तरों पर रेड की है।

100 से ज्यादा कैडर किये गिरफ्तार :

तों वहीं, आतंकवाद में फंडिंग, ट्रैनिंग कैंप करने में शामिल लोगों के आवास और आधिकारिक ठिकानों पर तलाशी किए जाने का सिलसिला जारी है। उरअसल, NIA की टीम ने इन राज्‍यों में उत्तर प्रदेश, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और तमिलनाडु में छापेमारी कर रही है। सूत्रों के हवाले से पता चला है कि, ''जांच एजेंसियों ने करीब 10 राज्यों में प्रदेश पुलिस के साथ मिलकर 100 से ज्यादा कैडर्स को गिरफ्तार किया है।''

यह अभी तक का सबसे बड़ा एक्शन :

कहा जा रहा है कि, NIA और ED का PFI और उससे जुड़े लोगों की ट्रेनिंग गतिविधियों, टेरर फंडिंग और लोगों को संगठन से जोड़ने को लेकर यह अभी तक का सबसे बड़ा एक्शन है। तो वहीं, टेरर फंडिग और कैम्प चलाने के साथ-साथ बच्चो को ट्रेनिंग देने की बात भी सामने आ रही हैं।

NIA की 40 सदस्यों की टीम नगर परिषद में रुकी :

मिली जानकारी के अनुसार, राजस्थान के बारां में NIA की 40 सदस्यों की टीम नगर परिषद में रुकी हुई हैं और इस दौरान NIA टीम के साथ ईडी, सीआरपीएफ और लोकल पुलिस भी मौजूद हैं। हालांकि, राजस्थान में दो दिन से टीमों का मूवमेंट कई जिलों में चल रहा था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co