बिहार चुनाव से पहले नीतीश सरकार ने शिक्षकों को दिया खास तोहफा
बिहार चुनाव से पहले नीतीश सरकार ने शिक्षकों को दिया खास तोहफाSocial Media

बिहार चुनाव से पहले नीतीश सरकार ने शिक्षकों को दिया खास तोहफा

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले नियोजित शिक्षकों की कई वर्षों पुरानी मांग मानकर नीतीश सरकार ने बड़ा चुनावी दांव खेला है व शिक्षकों की सैलरी भी 22 फीसदी बढ़ाई।

बिहार, भारत। बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले सरगर्मियां जोरो पर हैं। राज्य में सत्ता की कमान संभाले नीतीश सरकार ने बड़ा चुनावी दांव चला और बड़ा फैसला लेकर शिक्षकों को खास तोहफा देकर खुश किया है।

शिक्षकों के वेतन में इजाफा :

जी हां, आज मंगलवार को नीतीश कैबिनेट की बैठक में नियोजित शिक्षकों की सैलरी बढ़ाने का निर्णय लिया है और शिक्षकों के वेतन में 22 फीसदी का इजाफा किया गया है। अब नियोजित शिक्षकों को 1 अप्रैल 2021 से बढ़ा हुआ वेतन प्राप्त होगा।

बताते चलें, बिहार की नीतीश सरकार द्वारा लिए गये इस फैसले के बाद अब सरकार के खजाने पर 2765 करोड़ रुपये का बोझ बढ़ जाएगा।

लाखों नियोजित शिक्षकों को मिलेगा फायदा :

इसके अलावा कैबिनेट बैठक में नीतीश सरकार ने नियोजित शिक्षकों के लिए सेवा शर्त नियमावली पर भी मुहर लगा दी गई, जिससे नियोजित शिक्षकों को प्रमोशन और स्थानांतरण जैसी सुविधाओं का भी लाभ प्राप्त होगा। तो वहीं यह कयास भी लगाए जा रहे हैं कि, अगले माह 5 सितंबर को 'शिक्षक दिवस' के खास अवसर पर नई सेवा शर्त नियमावली की अधिसूचना जारी कर दी जाएगी एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा लिये गए इस फैसले के बाद तकरीबन 3.5 लाख नियोजित शिक्षकों को इसका फायदा मिलेगा।

गौरतलब है कि, स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को गांधी मैदान में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने भाषण के दौरान नियोजित शिक्षकों के लिए नई सेवा शर्त नियमावली जल्द लागू किये जाने की बात भी कही थी, क्योंकि बिहार के नियोजित शिक्षक पिछले कई वर्षों से नई सेवा शर्त नियमावली के लागू होने की मांग कर रहे थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co