केरल में Norovirus से हड़कंप
केरल में Norovirus से हड़कंपSyed Dabeer Hussain - RE

केरल में Norovirus से हड़कंप- कई छात्र संक्रमित, जानें क्‍या है इसके लक्षण

केरल में ‘नोरोवायरस’ की एंट्री होने से इसके कई मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है। इस दौरान स्‍कूलों में अवकाश घोषित किया गया।

केरल, भारत। महामारी कोरोना का खाैफ अभी तक अपना प्रकाेेप दिखा रहा है। अभी भी कई राज्‍यों में कोरोना का संक्रमण फैला हुआ है। इस बीच नए-नए वायरस जन्‍म लेकर लोगों को अपना शिकार बना रहे है। इस दौरान अब केरल राज्‍य से बड़ी खबर सामने आ रही है कि, यहां एक वायरस ने हड़कंप मचाया हुआ है। दरअसल, केरल में ‘नोरोवायरस’ की एंट्री होने से इसके मामले सामने आए है।

प्राइवेट स्कूल के छात्रों की बिगड़ी तबियत :

बताया जा रहा है कि, केरल में कक्कनाड के एक प्राइवेट स्कूल के छात्रों की तबियत बिगड़ी, जिसके चलते जांच की गई तो पता चला कि, वे एक वायरस से संक्रमित हुए हैं। डिस्ट्रिक्‍ट मेडिकल ऑफिसर (DMO) के अनुसार, बच्‍चों में नोरोवायरस (Norovirus) की पुष्टि हुई है। डीएमओ द्वारा जारी बयान के अनुसार, 2 सैंपल के टेस्‍ट पॉजिटिव आए हैं, वहीं, 3 बच्चों का इलाज चल रहा है।

कक्षा 1 से 5 तक के बच्‍चों के लिए अवकाश घोषित :

तो वहीं, केरल में नोरोवायरस के कई मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है। कक्कनाड डीएमओ ने बताया, एक प्राइवेट स्‍कूल में प्राथमिक कक्षा के बच्‍चों में उल्टी और दस्त जैसे लक्षण दिखने के बाद इस बीमारी (Norovirus) की पुष्टि हुई थी। कक्षा 1 व कक्षा 2 के 62 विद्यार्थियों व कुछ अभिभावकों में संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर सैंपल स्‍टेट पब्लिक लैब भेजे गए थे। हाला‍ंकि, नोरोवायरस से संक्रमित बच्‍चों की हालत चिंताजनक नहीं है, लेकिन संक्रमण ओर अधिक न फैले इसके लिए DMO ने कक्षा 1 से 5 तक के बच्‍चों के लिए अवकाश घोषित कर दिया है। साथ ही जिला प्रशासन की ओर से इस वायरस के प्रकोप के मद्देनजर निवारक और जागरूकता के उपाय शुरू किए हैं। ऑनलाइन अवेयरनेस क्‍लासेस आयोजित की जा रही हैं।

क्या है नोरोवायरस :

एक्‍सपर्ट्स की माने तो नोरोवायरस कोरोना की तरह ही एक संक्रामक है, आमतौर पर यह वायरस स्वस्थ लोगों को प्रभावित नहीं करता है, लेकिन यह छोटे बच्चों, बुजुर्गों और अन्‍य-बीमारियों वाले लोगों के लिए गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकता है। जो भी नोरोवायरस से संक्रमित होता है, उन्‍हें उल्टी और दस्त जैसी प्रॉब्‍लम होती है। साथ ही नोरोवायर के यह लक्षण भी है- निम्न-श्रेणी का बुखार या ठंड लगना, सिरदर्द और मांसपेशियों में दर्द। नोरोवायरस को विंटर वोमिटिंग बग के नाम से भी जाना जाता है। नोरोवायरस फैलने के यह प्रमुख कारण बताएं गए है, जैसे- दूषित पानी पीना या भोजन करना, नोरोवायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आना, इसके अलावा किसी दूषित सतह या वस्तु के संपर्क में आने के बाद अपने हाथ से मुंह को छूना।

दुनियाभर में नोरोवायरस के मामले :

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की माने तो, हर साल दुनियाभर में नोरोवायरस के करीब 68.5 करोड़ मामले सामने आते हैं, जबकि यह वायरस एक साल में लगभग 200,000 मौतों का कारण बनता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co