Assam 644 Militants Surrendered
Assam 644 Militants Surrendered|Social Media
उत्तर पूर्व भारत

जानें किस वजह से आज का दिन असम के लिए बना ऐतिहासिक?

असम के लिए आज का दिन काफी ऐतिहासिक है, क्‍योंकि यहां के राज्‍य में 8 प्रतिबंधित संगठनों के 644 उग्रवादियों ने 177 हथियारों के साथ आत्मसमर्पण किया है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

हाइलाइट्स :

  • उग्रवाद की मार झेल रहे असम के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण

  • असम में 177 हथियारों के साथ 644 उग्रवादियों का आत्मसमर्पण

  • उग्रवादियों का आत्‍मसमर्पण करना असल पुलिस के लिए बड़ी सफलता

  • एक कार्यक्रम में CM सर्बानंद सोनोवाल की मौजूदगी में किया सरेंडर

राज एक्‍सप्रेस। असम के लिए आज अर्थात 23 जनवरी का दिन काफी महत्वपूर्ण है, क्‍योंकि उग्रवाद की मार झेल रहे असम में पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। यहां के राज्‍य में 8 प्रतिबंधित संगठनों के 644 उग्रवादियों ने 177 हथियारों के साथ गुरुवार को आत्मसमर्पण (Assam 644 Militants Surrendered) किया है, पुलिस द्वारा यह जानकारी सामने आई है।

असम के CM की मौजूदगी में आत्‍मसमर्पण :

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, एक कार्यक्रम के दौरान असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल की मौजूदगी में उल्फा (आई), एनडीएफबी, आरएनएलएफ, केएलओ, सीपीआई (माओवादी), एनएसएलए, एडीएफ और एनएलएफबी के सदस्यों ने आत्मसमर्पण किया हैं।

पुलिस महानिदेशक बोले-

वहीं, पुलिस महानिदेशक ज्योति महंत ने संवाददाताओं से यह बात कही कि, ''यह राज्य और असम पुलिस के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है। कुल मिलाकर 644 कैडर और आठ आतंकवादी समूहों के नेताओं ने हथियार डाल दिए, यह हाल के दिनों में आतंकवादियों के सबसे बड़े आत्मसमर्पण में से एक है।''

इसके साथ ही पुलिस महानिदेशक ज्योति महंत ने यह भी बताया कि, उग्रवादियों ने जिन हथियारों को सौंपा है, उनमें एके- 47, एके-56 जैसे कई अत्‍याधुनिक हथियार हैं। इन उग्रवादियों को असम पुलिस में जगह दी जाएगी।

राज्‍य पुलिस के लिए बड़ी सफलता :

इतने बड़े पैमाने पर उग्रवादियों का आत्‍मसमर्पण करना राज्‍य पुलिस के लिए बड़ी सफलता माना जा रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co