लखीमपुर जाने की सरकार ने दी इजाजत- अब राहुल, प्रियंका समेत 5 नेता जाएंगे लखीमपुर
लखीमपुर जाने की सरकार ने दी इजाजत- अब राहुल, प्रियंका समेत 5 नेता जाएंगे लखीमपुरTwitter

लखीमपुर जाने की सरकार ने दी इजाजत- अब राहुल, प्रियंका समेत 5 नेता जाएंगे लखीमपुर

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जाने के लिए राहुल और प्रियंका गांधी समेत 5 कांग्रेस नेताओं को लखीमपुर खीरी की इजाजत मिल गई है। साथ ही हिरासत से रिहा हुई प्रियंका गांधी...

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हिंसा के बाद से ही धारा 144 लागू है, किसी भी नेता को यहां आने नहीं दिया जा रहा है। इस बीच अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी लखीमपुर खीरी इलाके का दौरा करने के लिए लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे, तो इन्‍हें भी रोक दिया। हालांकि, अब सरकार ने राहुल और प्रियंका गांधी समेत 5 कांग्रेस नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत दे दी है।

5-5 सदस्यों को लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति :

दरअसल, राज्‍य में योगी सरकार ने सभी दलों के 5-5 सदस्यों को लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति दी है। इस बारे में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने जानकारी देते हुए बताया- राज्य सरकार ने अब पांच के समूहों में लोगों को लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति दी है। जो कोई भी वहां जाना चाहता है वह अब जा सकता है। राज्य सरकार ने कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिबंध लगाए थे, न कि किसी मूवमेंट को प्रतिबंधित करने के लिए।

लखीमपुर खीरी हिंसा के पीड़ित 2 परिवारों से मिलेंगे 5 नेता :

सरकार की इजाजत मिलने के बाद अब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ भूपेश बघेल, चरणजीत सिंह चन्नी और एक अन्य नेता लखनऊ एयरपोर्ट से रवाना हुए। पहले राहुल गांधी सीतापुर में प्रियंका गांधी से मिलेंगे, इसके बाद लखीमपुर खीरी के लिए रवाना होंगे। अब यह कांग्रेस नेता लखीमपुर खीरी हिंसा के पीड़ित दो परिवारों से मिल सकेंगे। साथ ही कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी को हिरासत से भी रिहा कर दिया गया है।

हालांकि, लखीमपुर अपनी गाड़ी से जाने पर भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी अड़े रहे। उन्‍होंने लखनऊ में बताया- हमें अपनी गाड़ी में लखीमपुर खीरी जाना है, लेकिन ये (पुलिस) चाहते हैं कि हम इनके साथ इनकी गाड़ी में जाए। इसका मतलब है कि ये कुछ न कुछ बदमाशी कर रहे हैं इसलिए हम लोग यहां बैठे हुए हैं। ये चाहते हैं कि हम इनके साथ इनकी गाड़ी में जाएं। देश का नागरिक हूं आप मुझे क्यों नहीं जाने दे रहे हैं? पहले इन्होंने कहा कि, आप अपनी गाड़ी में जा सकते हैं, अब बोल रहे हैं कि आप पुलिस की गाड़ी में जाएंगे।

पीड़ित परिवारों के साथ पूरा हिंदुस्तान खड़ा हुआ है। छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से प्रत्येक पीड़ित किसानों के परिवार को 50 लाख रुपए और पीड़ित पत्रकार के परिवार को भी 50 लाख रुपये दिए जाएंगे।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

तो वहीं, उत्तर प्रदेश के लखीमपुर की घटना पर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी कहा- मैं आज राहुल गांधी के नेतृत्व में लखनऊ पहुंचा हूं। घटनास्थल पर जाना है। किसानों और पत्रकारों को मार गिराया गया है। मुझे दुख है कि किस तरह योजना बनाकर हमला हुआ। किसानों को मारा जाएगा तो हम चुप नहीं बैठ सकते। जिन किसानों की मौत हुई है पत्रकार समेत प्रत्येक के परिवार को हम पंजाब सरकार की तरफ से 50 लाख रुपये देंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.