दिल्ली में तेजी से फैल रहा कोरोना का संक्रमण- अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक

दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ने के चलते आज गृहमंत्री अमित शाह ने नॉर्थ ब्लॉक में एक बैठक बुलाई है, जिसमें स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, दिल्ली के उपराज्यपाल और मुख्यमंत्री भी मौजूद रहेंगे।
दिल्ली में तेजी से फैल रहा कोरोना का संक्रमण- अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक
दिल्ली में तेजी से फैल रहा कोरोना का संक्रमण- अमित शाह ने बुलाई आपात बैठकSocial Media

दिल्‍ली, भारत। देश की राजधानी दिल्‍ली में कोरोना महामारी के बेकाबू होने और मौजूदा स्थिति ने राज्‍य व केंद्र सरकार की टेंशन एक बार फिर बढ़ा दी है, दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण आज केंद्र सरकार ने आपात मीटिंग बुलाई है।

संक्रमण की स्थिति का जायजा लेंगे शाह :

राजधानी में संक्रमण की स्थिति का जायजा लेने के लिए नॉर्थ ब्लॉक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एक आपात बैठक बुलाई है, जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है कि, दिल्ली में कोरोना के मामलों में आई तेजी को लेकर गृह मंत्री अमित शाह चिंतित हैं, क्‍योंकि यहां एक दिन में 7000 से भी अधिक कोरोना के केस दर्ज हो रहे हैं।

जानकारी के लिए बताते चलें, ये दूसरी बार है जब अमित शाह दिल्ली में कोरोना के मामलों की संख्या में इजाफा होता देख एक्‍शन में आकर दिल्‍ली की कोरोना हालात का जायजा ले रहे हैं। इससे पहले भी जून-जुलाई में दिल्ली में कई बैठकें कीं थीं।

दिल्‍ली में कोरोना के केस :

बता दें कि, राज्य सरकार द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली में शनिवार को 7,340 नए कोविड -19 मामले और 96 मौतें हुईं। इसके साथ, राष्ट्रीय राजधानी में कुल मामले 4,82,170 तक पहुंच गए। दिल्ली में 44,456 सक्रिय मामले हैं, जबकि 7,519 मौतें हुई हैं। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 7,340 मामले सामने आए।

तो वहीं, दीवाली से एक दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की एक बड़ी वजह प्रदूषण बताया था और कहा था कि, "कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर उनकी सरकार चिंतित है और जो भी जरूरी कदम उठाने की आवश्यकता है, उसे उठाया जा रहा है। राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की एक बड़ी वजह प्रदूषण है। दिल्ली में इस वक्त कोरोना के मामले भी बढ़ रहे हैं, अगले सात से दस दिन में कोरोना नियंत्रण में आ जाएगा। अगर प्रदूषण थम जाए तो कोरोना भी काफी हद तक नियंत्रित होगा। हम संक्रमण रोकने के लिए हर कदम उठा रहे हैं।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co