UP की योगी सरकार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर मेहरबान- वितरण किए लाखों स्मार्टफोन
UP की योगी सरकार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर मेहरबान- वितरण किए लाखों स्मार्टफोनRajexpress

UP की योगी सरकार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर मेहरबान- वितरण किए लाखों स्मार्टफोन

उत्‍तर प्रदेश के CM योगी ने कहा- UP के बारे में लोगों की धारणा बदली है। हर एक विभाग ने कुछ न कुछ नया और अच्छा किया है। आज स्थिति बदली है, आंगनबाड़ी बहनों का सम्मान हमारी सरकार में बढ़ा है।

उत्‍तर प्रदेश, भारत। उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ इन दिनों एक के बाद एक प्रदेश वासियों को सौगात दे रहे हैं। इसी कड़ी में अब वे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर मेहरबान हुए और उन्‍हें स्मार्टफोन वितरण किए हैं। CM योगी द्वारा आज मंगलवार को लखनऊ में 'पोषण अभियान' के अंतर्गत आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों को तकनीक से जोड़ने व उनकी कार्य सुविधा के लिए 1.23 लाख स्मार्टफोन एवं बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए 1.87 लाख इन्फैंटोमीटर का वितरण किया है।

आज उत्तर प्रदेश के बारे में लोगों की धारणा बदली है :

इस दौरान CM योगी ने अपने संबोधन में कहा- मुझे बेहद प्रसन्नता है कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी का जो एक संकल्प था, एक 'पारदर्शी और ईमानदार सरकार' के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हम तकनीक के माध्यम से शासन की योजनाओं को प्रत्येक नागरिक तक पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं। आज उत्तर प्रदेश के बारे में लोगों की धारणा बदली है। हर एक विभाग ने कुछ न कुछ नया और अच्छा किया है।

4.5 वर्षों में UP सरकार के प्रत्येक विभाग ने कुछ न कुछ नया व अच्छा किया है। कहने के लिए यह केवल स्मार्ट फोन व ग्रोथ मॉनिटरिंग डिवाइस के वितरण का कार्यक्रम हो सकता है, लेकिन इसकी गूंज सुशासन के लक्ष्य को प्राप्त करने में नींव के पत्थर के रूप में है।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

आंगनबाड़ी बहनों का सम्मान हमारी सरकार में बढ़ा है :

CM योगी ने पिछली सरकार का जिक्र करते हुए यह भी कहा- याद कीजिए आज से साढ़े चार साल पहले की क्या स्थिति थी। याद करिए पिछली सरकार में क्या स्थिति थी। आज स्थिति बदली है, आंगनबाड़ी बहनों का सम्मान हमारी सरकार में बढ़ा है। आज आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को लोग सम्मान भरी नजरों से देखते हैं। मैं ने स्वंय बहुत नजदीक से इनकी कार्य पद्धति को देखा है। हमें यह जानना होगा कि कोई भी व्यक्ति या संस्थान चाहे जितना अपना प्रचार-प्रसार कर दे, लेकिन उसकी असली पहचान विपत्ति के समय ही की जा सकती है।

CM योगी ने बताया- कोरोना पूरी दुनिया में था, लेकिन देश की मीडिया की नजरें उत्तर प्रदेश पर थीं, क्योंकि जिससे उम्मीद होती है, नजर भी उसी पर रहती है। आंगनबाड़ी में कार्य करने वाली ये बहनें कोरोना महामारी के दौरान लोगों के घर-घर जाती थीं। कोई भी व्यक्ति, जो सर्दी, जुकाम आदि रोगों से बीमार है, उसे मेडिसिन किट उपलब्ध कराती थीं, उनकी सूची तैयार कर शाम तक जिला मुख्यालय तक पहुंचाने का कार्य करती थीं। कोरोना को उत्तर प्रदेश ने जिस तरह से नियंत्रित किया है, उससे एक नया मॉडल तैयार हुआ है। जो दूसरों को भी संदेश देता है कि, सामूहिक कार्य करने से हम किसी भी बड़ी चुनौती से आसानी से निपट सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.