UP बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट को लेकर CM योगी ने अफसरों को दिया बड़ा आदेश
UP के बजट 2022-23 पर CM योगी की प्रेस वार्ता, जानें क्‍या कहा खासSocial Media

UP बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट को लेकर CM योगी ने अफसरों को दिया बड़ा आदेश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों के साथ बैठक यूपी बोर्ड परीक्षा के परिणाम को लेकर अफसरों को यह निर्देश दिया है...

उत्तर प्रदेश, भारत। इस साल 2022 में हुए बोर्ड एग्जाम के नतीजों का सिलसिला जारी है, एक के बाद एक राज्य में बोर्ड परीक्षा के परिणामों की घोषणा की जा रही है। उत्तर प्रदेश में बोर्ड परीक्षा के परिणाम अभी जारी नहीं हुए हैं और ना इसको लेकर अभी तक कोई तारीख सामने आई है। इस बीच आज यूपी बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा आदेश दिया है।

CM योगी ने अफसरों को दिया यह निर्देश :

दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज बुधवार को अफसरों के साथ बैठक कर रहे थे, इसी दौरान उन्होंने यूपी बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट को लेकर अफसरों को निर्देश दिया है और कहा कि, "परिणाम समय से जारी किए जाएं। यूपी बोर्ड परीक्षार्थियों को अपने परीक्षा परिणाम की प्रतीक्षा होगी। ऐसे में बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम समय से जारी कर दिया जाए। इसकी पूर्व सूचना अभिभावकों और परीक्षार्थियों को जरूर दी जाए।"

इस दौरान CM योगी ने प्रदेश की कोरोना ने स्थिति की समीक्षा करते हुए कहा कि, "एग्रेसिव ट्रेसिंग, टेस्टिंग, त्वरित ट्रीटमेंट और तेज टीकाकरण की नीति का परिणाम है कि, आज जबकि देश के विभिन्न राज्यों में एक बार फिर कोविड केस में बढ़ोतरी हो रही है, उत्तर प्रदेश में पॉजिटिविटी दर न्यूनतम बनी हुई है। विगत दिवस की पॉजिटिविटी मात्र 0.03 प्रतिशत रही, जबकि वर्तमान माह में औसत पॉजिटिविटी 0.23 प्रतिशत रही है।"

प्रदेश में वर्तमान में कुल एक्टिव केस की संख्या 1645 है। इसमें 1563 लोग घर पर उपचाराधीन हैं, जबकि 29 लोग अस्पतालों में चिकित्सकों की निगरानी में हैं। विगत 24 घंटों में 86 हजार से अधिक टेस्ट किए गए और 318 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 178 लोग उपचारित होकर कोरोना मुक्त भी हुए। बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर हमें सतर्क रहना होगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

  • 15-17 आयु वर्ग के 98.72 प्रतिशत किशोरों को पहली और 82.5 प्रतिशत को दोनों खुराक मिल चुकी है, इसी प्रकार, 12 से 14 आयु वर्ग के 92 प्रतिशत से अधिक बच्चों को टीके की पहली डोज और 52 प्रतिशत को दोनों डोज दी जा चुकी है।

  • 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज दिए जाने में तेजी की अपेक्षा है। बूस्टर डोज की महत्ता और बूस्टर टीकाकरण केंद्रों के बारे में आमजन को जागरूक किया जाए। 12-18 आयु वर्ग के किशोरों को दूसरी डोज देने में तेजी की जरूरत है।

  • किसानों के हित संरक्षण को सुनिश्चित करते हुए गेहूं खरीद की प्रक्रिया आगामी 30 जून तक जारी रखा जाए। क्रय अवधि बढ़ाने का आदेश तत्काल प्रभावी करें। आगामी दिनों में मॉनसून/बारिश की संभावना को देखते हुए खरीदे जा रहे गेहूं की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co