CM योगी ने प्रदेश को दी 220 बेड के कोविड अस्पताल व कोबास 6800 लैब की सौगात

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रयागराज में 220 बेड के कोविड अस्पताल और प्रदेश की पहली कोबास- 6800 लैब का लोकार्पण किया।
CM योगी ने प्रदेश को दी 220 बेड के कोविड अस्पताल व कोबास 6800 लैब की सौगात
CM योगी ने प्रदेश को दी 220 बेड के कोविड अस्पताल व कोबास 6800 लैब की सौगातPriyanka Sahu -RE

उत्तर प्रदेश, भारत। देश में महामारी का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है, देश केे हर राज्‍यों में कोरोना वायरस से अपने पैर पसार रखे हैं। इस वायरस की चपेट में उत्‍तर प्रदेश भी शामिल है, यहां भी कोरोना का कहर फैलता ही जा रहा हैै। इसी बीच आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्‍यम से प्रयागराज में 220 बेड के कोविड अस्पताल और प्रदेश की प्रथम कोबास- 6800 लैब का लोकार्पण कर प्रदेश को बड़ी सौगात दी है।

प्रदेश की पहली कोबास-लैब का उद्घाटन :

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुए इस कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन भी मौजूद रहे। वहीं, कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अपने संबोधन में कहा, "केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन और आईसीएमआर का विशेष रूप से आभारी हूं।" आगे उन्‍होंने कहा, ''UP में 'प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना' के अंतर्गत न केवल पुराने मेडिकल कॉलेजों में सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक के लिए समय से धनराशि उपलब्ध करवाई, बल्कि मेडिकल कॉलेजों की भी एक लम्बी श्रृंखला उत्तर प्रदेश में स्थापित करने में अपना योगदान दिया है।''

प्रदेश की पहली कोबास-लैब का उद्घाटन आज यहां पर सम्पन्न हो रहा है। यह लैब प्रदेश सरकार के अंतर्गत संचालित होगी। मैं इसके लिए प्रयागराज और प्रदेश के सभी नागरिकों को हृदय से बधाई देता हूं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

CM योगी द्वारा कहीं गई प्रमुख बातें :

  • मैं आदरणीय प्रधानमंत्री जी का आभारी हूं, जिन्होंने देश को प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए लोगों को एक रचनात्मक सोच दी है। स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में जो आमूलचूल परिवर्तन देखने को मिला है, वह इसी का परिणाम है।

  • मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि प्रदेश में पिछले साढ़े तीन वर्षों के दौरान 02 एम्स, 06 सुपर स्पेशियलिटी मेडिकल कॉलेजों में मेडिकल ब्लॉक्स की स्थापना और 29 नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना हुई है। यह भारत सरकार के सहयोग से मुमकिन हो पाया है।

  • कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में बनाई गई कार्ययोजना और मा. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के द्वारा समय-समय पर दिए गए सुझावों एवं सहयोग से ही संभव हो पा रहा है।

प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केसेज में कमी :

CM योगी ने बताया- पिछले कुछ दिनों में प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केसेज में कमी आई है और जो ट्रेंड चला है वह इस बात को साबित करता है कि टेस्टिंग क्षमता बढ़ाकर हम लोग कोविड-19 को नियंत्रित करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, प्रयागराज में कोबास-लैब की काफी दिनों से प्रतीक्षा थी। राज्य सरकार के किसी मेडिकल कॉलेज में यह पहली लैब हमें प्राप्त हो रही है। आरटीपीसीआर से हमने जो क्षमता प्राप्त की है, उसमें हम 60,000 टेस्ट प्रतिदिन के आसपास पहुंचे हैं

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

CM योगी ने कहा, ''आज प्रयागराज को सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक के रूप में 220 बेड का एक डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल दिया जा रहा है। इसमें आईसीयू के 140 और आइसोलेशन के 80 बेड्स होंगे। यहां आईसीयू बेड्स के साथ वेंटिलेटर और एचएफएनसी की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co