UP के CM योगी ने फर्रुखाबाद को दी विकास परियोजनाओं की सौगात और कहीं यह बात
CM योगी ने फर्रुखाबाद को दी विकास परियोजनाओं की सौगातRajexpress

UP के CM योगी ने फर्रुखाबाद को दी विकास परियोजनाओं की सौगात और कहीं यह बात

UP के CM योगी ने फर्रुखाबाद में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास कर कहा-अच्छी सरकार आएगी तो अच्छी योजनाएं आएंगी। बुरी सरकार में हड़पे गए गरीबों का रुपया आज दीवारों से निकल रहा है।

उत्‍तर प्रदेश, भारत। उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ आगामी विधानसभा से पहले लगतार विभिन्‍न विकास परियोजनाओं की बौछार कर जनपदों को सौगातें दे रहे हैं। अब आज बुधवार को जनपद फर्रुखाबाद में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

अच्छी सरकार आएगी तो अच्छी योजनाएं आएंगी :

फर्रुखाबाद में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास के अवसर पर CM योगी ने कहा- जनपद फर्रुखाबाद में जन विश्वास यात्रा के स्वागत के लिए बड़ी संख्या में आए आप सभी का मैं भगवान बुद्ध के स्वर्गावतरण की इस धरती को नमन करते हुए हृदय से स्वागत व अभिनंदन करता हूं। अच्छी सरकार आएगी तो अच्छी योजनाएं आएंगी। बुरी सरकार में हड़पे गए गरीबों का रुपया आज दीवारों से निकल रहा है। हम लोग इन पैसों को भी विकास के कार्यों में लगाएंगे।

PM मोदी के नेतृत्व में सबको फ्री में टेस्ट, फ्री में वैक्सीन दी गयी :

CM योगी ने कहा, ''भाजपा ने जो कहा था वो कर के दिखाया। भारतीय जनता पार्टी (BJP) जो कहेगी उसको अक्षरशः मंत्र मानकर फिर से लागू भी करेगी। कोरोना में उत्तर प्रदेश के प्रबंधन को पूरे देश ने और पूरी दुनिया ने स्वीकार किया है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सबको फ्री में टेस्ट, फ्री में वैक्सीन दी गयी है।''

अच्छी सरकार आती है तो अच्छी योजनाएं भी आती हैं। बुरी सरकार आएगी तो यही अन्न सपा के, बसपा के या कांग्रेस के नेताओं के घरों में चला जाता और उनकी तिजोरी भरती।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

CM योगी ने बताया- आतंकवादियों को प्रेरित और पोषित करने वाली ये कांग्रेस देश के साथ कैसे खिलवाड़ कर रही थी, ये किसी से छिपा नहीं है। पहले जब सत्ता में थे तब आतंकियों को प्रेरित करते थे और आज जब सत्ता से बाहर हैं तो जनता के हित के हर कार्यों का विरोध करते हैं। समाजवादी पार्टी की सरकार की भावनाएं गरीबों के लिए नहीं थी, युवाओं के लिए नहीं थी, मजदूरों के लिए नहीं थी, किसानों के लिए नहीं थी। नौकरी निकलती थी तो चाचा, भतीजा, मामा, सब वसूली के लिए निकल पड़ते थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co