यूपी सरकार के 4 साल बेमिसाल- प्रेस वार्ता में CM योगी ने बताई उपलब्धियां
यूपी सरकार के 4 साल बेमिसाल- प्रेस वार्ता में CM योगी ने बताई उपलब्धियांPriyanka Sahu -RE

यूपी सरकार के 4 साल बेमिसाल- प्रेस वार्ता में CM योगी ने बताई उपलब्धियां

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के चार साल पूरे हो गए हैं। इस दौरान CM योगी ने प्रेसवार्ता कर क्‍या खास बातें कही, यहां देखें...

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के चार साल पूरे हो गए हैं। इस दौरान आज UP के CM योगी की प्रेसवार्ता आयोजित हुई।

विकास पुस्तिका का भी विमोचन :

उत्तर प्रदेश सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर लखनऊ में आयोजित प्रेसवार्ता समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश स्तरीय 'विकास पुस्तिका' का भी विमोचन किया।

आज अपनी कार्यनीति की वजह से पहले नंबर पर UP :

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेसवार्ता ने कहा- सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर आयोजित विशेष प्रेसवार्ता में मैं अपनी पूरी टीम की ओर से आप सभी का स्वागत करता हूं। मैं सभी 24 करोड़ प्रदेशवासियों का अभिनंदन करते हुए उन्हें बधाई देता हूं। पहले की सरकारों में सोच की कमी थी, जिसकी वजह से प्रदेश बीमारू हुआ था। केंद्र सरकार की सभी योजनाओं में जहां पहले उत्तर प्रदेश 23वें नंबर पर रहता था, लेकिन आज अपनी कार्यनीति की वजह से पहले नंबर पर है। यह वही प्रदेश है जो कभी गन्ना उत्पादन में पहले नंबर था, लेकिन पूर्व की सरकारों ने गन्ना मिलों को बंद कर इसे बर्बाद कर दिया था।

मगर हमारी सरकार ने गन्ना उत्पादन को फिर से एक नए मुकाम पर पहुंचाया है, जहां गन्ना किसानों को रिकॉर्ड भुगतान हुआ है। विगत चार वर्षों में सभी पर्व पूरी शांति के साथ सम्पन्न हुए, चार सालों में कोई दंगा नहीं हुआ।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

CM योगी द्वारा कही गईं प्रमुख बातें-

  • इसी प्रदेश में निवेश के लिए कोई आना नहीं चाहता था, यहां डर का माहौल था, लेकिन आज प्रदेश निवेशकों की पहली पसंद बना है।

  • पुलिस रिफॉर्म को लेकर काफी समय से मांग चल रही थी, जिसे सरकार ने कमिश्नरेट सिस्टम लागू कर उसे अमल में लाया, पुलिस कर्मियों को मूलभूत सुविधाओं सहित अन्य कमी को पूरा किया गया।

  • प्रदेश में जो जीरो टॉलरेंस की नीति रही है, उसका परिणाम रहा है कि डकैती, बलात्कार, भ्रष्टाचार में भारी कमी देखने को मिली है।

  • प्रदेश के किसानों को आधुनिक नीति से जोड़ने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र खोले गए। सिंचाई की जो 11 परियोजनाएं लागू नहीं हो सकी थीं, उन्हें लागू किया गया जिससे किसानों को सिंचाई में सहूलियत मिली है।

  • ग्रामीण क्षेत्र की अर्थव्यवस्था के लिए कनेक्टविटी बहुत बड़ा योगदान देती है, जिसको लेकर प्रदेश सरकार ने हर गांव में बेहतर सड़कों का निर्माण कराया। हर गांव को बिजली, स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करायी हैं।

  • प्रदेश में जब अर्थव्यवस्था, निवेश अनुकूल वातावरण, प्रति व्यक्ति आय की बात आती थी तो हम प्रथम 03 स्थानों में भी नहीं टिकते थे। प्रदेश में बेरोजगारी भी ज्यादा थी। आज प्रदेश निवेश अनुकूल वातावरण बनाने में सफल रहा है।

  • प्रदेश की अर्थव्यवस्था जो पहले पांचवें, छठवें स्थान पर थी, आज वह दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरी है। प्रदेश में इंफ्रास्ट्रक्चर, लोक कल्याण, MSME, कृषि के क्षेत्र में हुए कार्यों के सार्थक परिणाम सामने आए हैं।

  • आज प्रदेश देश में नए भारत के नए उत्तर प्रदेश के रूप में उभरा है। यह वही प्रदेश है, जहां 04 वर्ष पहले तक केन्द्र की किसी योजना का स्थान नहीं होता था। यह योजनाएं ही आज नागरिकों के जीवन में व्यापक परिवर्तन का कारक बन रही हैं।

  • प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी एवं ग्रामीण) में उत्तर प्रदेश देश में पहले स्थान पर है। विश्व के सबसे बड़े अभियान स्वस्थ भारत मिशन के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में 2.61 करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण किया गया है।

  • खाद्यान्न उत्पादन में भी प्रदेश ने बेहतर प्रदर्शन किया। हमने किसानों के हितों के लिए कार्य प्रारम्भ किए हैं। सॉयल हेल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई जैसी योजनाएं प्रदेश में लागू हुई हैं।

  • प्रदेश में 59 नए थाने, 29 नई चौकियां, 04 नए महिला थाने, आर्थिक अपराध शाखा के 04 नए थाने, विजिलेंस के 10 नए थाने, साइबर क्राइम के 16 नए थाने व अग्निशमन के 59 नए केन्द्रों की स्थापना की गई है।

  • यूपी सरकार की अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति का परिणाम रहा है कि, प्रदेश में डकैती, लूट, हत्या, बलवा और बलात्कार की घटनाओं में कमी आई है।

  • प्रदेश में 20 नए कृषि विज्ञान केन्द्रों की स्थापना की गई है। प्रधानमंत्री किसान सिंचाई योजना के अंतर्गत दशकों से लंबित परियोजनाओं को पूरा किया गया है। साथ ही लंबित 11 सिंचाई परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं।

  • प्रदेश में किसानों के हित के लिए कई कदम उठाए गए हैं। खांडसारी उद्योग में लाइसेंस की प्रक्रिया के सरलीकरण व नि:शुल्क प्रदान करने का कार्य किया गया। इस क्रम में 266 नए लाइसेंस उपलब्ध कराए गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co