CM योगी ने 3 जनपदों की परियोजनाओं, विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा की
CM योगी ने 3 जनपदों की परियोजनाओं, विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा कीSyed Dabeer Hussain - RE

CM योगी ने 3 जनपदों की परियोजनाओं, विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा की

उत्तर प्रदेश के CM योगी ने राजकीय चिकित्सा कॉलेज की स्थापना एवं जिला चिकित्सालय के उच्चीकरण के निर्माण कार्यों के संबंध में प्रस्तुतीकरण का अवलोकन किया। साथ ही अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज रविवार को ललितपुर में है, इस दौरान उन्‍होंने राजकीय चिकित्सा कॉलेज की स्थापना एवं जिला चिकित्सालय के उच्चीकरण के निर्माण कार्यों के संबंध में प्रस्तुतीकरण का अवलोकन किया।

परियोजनाओं, विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा की :

इस दौरान CM योगी ने निर्माण कार्यों का निरीक्षण एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। आयुक्त सभागार में झांसी मंडल के अन्तर्गत आने वाले तीन जनपदों (झांसी, ललितपुर, जालौन) की परियोजनाओं और विकास कार्यों व कानून व्यवस्था की समीक्षा की। CM योगी ने कहा- राज्य सरकार विकास और जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से प्रदेश की जनता को लाभान्वित करने के लिए प्रतिबद्ध है। इस संबंध में किसी भी स्तर पर लापरवाही या उदासीनता बरते जाने पर सम्बंधित की जवाबदेही तय की जाएगी।परियोजनाओं की साप्ताहिक/पाक्षिक समीक्षा की जाए, जिससे उन्हें गुणवत्तापूर्ण ढंग से निर्धारित समय सीमा में पूरा कराया जा सके।

रामराज्य के स्थापना का मार्ग तब प्रशस्त होगा जब 135 करोड़ का भारत एक स्वर से बोलेगा और चलेगा। रामराज्य के मार्ग को प्रशस्त करने का काम इस समय भारत में हो रहा है, बिना भेदभाव के सभी को योजनाओं का लाभ मिल रहा है, सभी को सुरक्षा मिल रही है।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

CM योगी ने कहा- जनप्रतिनिधियों से समन्वय बनाकर विकास कार्यो में तेजी लाते हुए योजनाओं और विकास कार्यों को समय बाध्यता व गुणवत्ता पूर्ण ढंग से मानकों के अनुसार पूरा किया जाए।निर्धारित अवधि में कार्य पूर्ण हो जाने पर लागत में कमी आती है और जनता को विकास योजनाओं का समय से लाभ मिलता है।

अमृत पेयजल योजना की CM ने की समीक्षा :

इसके अलावा बुंदेलखंड क्षेत्र के लिए महत्वाकांक्षी परियोजना जल जीवन मिशन के अंतर्गत अमृत पेयजल योजना की समीक्षा करते हुए CM योगी आदित्‍यनाथ ने कहा- योजना के दूसरे पक्ष की प्रगति संतोषजनक नहीं है। संबंधित कंपनी को ब्लैक लिस्टेड करते हुए एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए।

  • ऐसी संस्थाएं जिनकी कार्यक्षमता शिथिल है उनके स्थान पर अन्य एजेंसियों द्वारा कार्य कराया जाना सुनिश्चित किया जाए ताकि योजना समय से पूर्ण हो सके। ऑपरेशन कायाकल्प में विद्यालय अच्छे बन सकें,जनप्रतिनिधि भी एक-एक विद्यालय गोद लें ताकि विद्यालयों में सुधार आ सके। विद्यालयों में पहले से अधिक सुधार आया है।

  • मुख्यमंत्री ने बुंदेलखंड में उद्योग सृजन की संभावना को गति देने के लिए उद्योग बंधु की बैठक में जनप्रतिनिधियों और बैंकर्स की एक साथ बैठक करें तो रोजगार के प्रयास अधिक तेजी से बढ़ेंगे। CM योगी ने अधिकारियों को अपनी तैनाती स्थल पर ही प्रवास करने के निर्देश देेते हुए कहा, तहसील स्तर, ब्लॉक स्तर और पंचायत स्तर पर तैनात अधिकारी वहीं रहना सुनिश्चित करें।

तो वहीं, बच्चों को पढ़ाई कराने के निर्देश देते हुए कहा कि, ''यही भविष्य की नींव हैं। बच्चों के अभिभावकों को स्कूल ड्रेस, जूते-मोजे आदि की धनराशि दी है, अभिभावक उन्हीं पर व्यय करना सुनिश्चित करें।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.