Raj Express
www.rajexpress.co
Sarvajit Singh
Sarvajit Singh|Priyanka Sahu -RE
उत्तर भारत

क्‍या आप जानते हैैं 4 साल पुराना मामला क्‍यों हो रहा ट्रेंड?

दिल्‍ली में जसलीन कौर और सर्वजीत सिंह का पुराना मामला आज फिर ट्रेंड में है, लड़की द्वारा लगाया गया आरोप झूठा निकला व लड़के को अदालत ने बरी कर दिया, सर्वजीत ने फेसबुक पोस्‍ट पर खुद ये बात बताई।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। वर्ष 2015 यानी 4 साल पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो व तस्‍वीर काफी वायरल हुई थी और आज एक बार फिर यह काफी ट्रेंड में है, अब आप ये सोच रहे होंगे कि, भला 4 साल पुराना मामला अब क्‍यों ट्रेंड होगा, तो यह वही मामला है, जहां दिल्ली के तिलक नगर में एक आम लड़के (Sarvajit Singh) पर ट्रैफिक सिग्नल पर भद्दे कमेंट का आरोप लगाया था, जिसे लोग नफरत की निगाह से देखने लगे व दिल्ली का दरिंदा कहने लगे थे। आज इसी लड़के को अदालत ने सभी आरोपों से बरी कर दिया है।

सर्वजीत सिंह ने फेसबुक पर डाला पोस्‍ट :

दिल्ली का दरिंदा कहेे जाने वाले सर्वजीत सिंह की जिदंगी बदल गई है और सर्वजीत ने खुद यह बात फेसबुक पर पोस्‍ट कर बताई कि, ''फैसला आ चुका है...मैं बरी हो गया हूं। मैं वाहेगुरू का धन्यवाद करता हूं और सभी को समर्थन के लिए शुक्रिया करता हूं… मेरी मां मेरे साथ हमेशा खड़ी रही। उनके साथ की वजह से ही मुझे साहस मिला।'' अगर सर्वजीत सिंह अदालत के फैसले का पोस्ट नहीं डालते तो शायद लोगों तक ये खबर पहुंच भी नहीं पाती।

सर्वजीत सिहं का फेसबुक पोस्‍ट
सर्वजीत सिहं का फेसबुक पोस्‍ट

हालांकि, सर्वजीत सिंह की बदनामी का यह कलंक धोने में 4 साल लग गए और यह मामला ट्विटर पर भी काफी ट्रेंड हो रहा है, जो आप इस लिंक पर क्लिक कर देेेेख सकते हैैं- जसलीन कौर व सर्वजीत सिंह मामला

अदालत ने क्‍या कहा ?

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट सोनम गुप्ता की अदालत ने आरोपी सर्वजीत सिंह को अश्लील टिप्पणी करने, आपराधिक धमकी देने और इशारे अथवा शब्दों के माध्यम से किसी महिला की लज्जा को भंग करने के आरोपों से बरी कर दिया। अदालत का कहना है कि, मामले और गवाहों के बयानों पर गौर करने के बाद पाया गया कि, महिला का उद्देश्य आरोपी की विनम्रता का अपमान करना था। शिकायतकर्ता के बयान विश्वसनीय नहीं है, जो इस मामले की सबसे गंभीर खामी है। अदालत बगैर पुख्ता आधार के किसी को दोषी नहीं ठहरा सकती।