सभी को बूस्टर डोज और बच्चों के टीकाकरण पर भी केन्द्र ले जल्द निर्णय : गहलोत
सभी को बूस्टर डोज और बच्चों के टीकाकरण पर भी केन्द्र ले जल्द निर्णय : गहलोतSocial Media

सभी को बूस्टर डोज और बच्चों के टीकाकरण पर भी केन्द्र ले जल्द निर्णय : गहलोत

केन्द्र सरकार को ओमिक्रॉन से मानव जाति की रक्षा के लिए सभी लोगों को जरूरत के अनुसार बूस्टर डोज लगाने तथा पन्द्रह वर्ष से कम आयु के बच्चों का भी जल्द नि:शुल्क टीकाकरण शुरू करने का निर्णय लेना चाहिए।

जयपुर, राजस्थान। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि केन्द्र सरकार को ओमिक्रॉन खतरे से मानव जाति की रक्षा के लिए सभी लोगों को जरूरत के अनुसार बूस्टर डोज लगाने तथा पन्द्रह वर्ष से कम आयु के बच्चों का भी जल्द नि:शुल्क टीकाकरण शुरू करने का निर्णय लेना चाहिए।

श्री गहलोत आज यहां राजकीय आदर्श बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय गणगौरी बाजार में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के निशुल्क टीकाकरण के शुभारम्भ कार्यक्रम में उपस्थित बच्चों एवं अभिभावकों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वैरिएंट के रूप में देश और दुनिया के सामने अस्तित्व का नया संकट आ खड़ा हुआ है। इस खतरे से मानव जाति की रक्षा के लिए जरूरी है कि जिन्हें वैक्सीन की दूसरी डोज लगे छह माह से अधिक का समय हो गया है, ऐसे सभी लोगों को जरूरत के अनुसार बूस्टर डोज लगे तथा 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों का भी जल्द नि:शुल्क टीकाकरण शुरू हो।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस सम्बन्ध में शीघ्र निर्णय करने के लिए केन्द्र सरकार पर दबाव बनाएगी, ताकि तीसरी लहर के खतरे से प्रदेशवासियों को बचाया जा सके। उन्होंने निर्देश दिए कि जिस प्रकार राज्य सरकार ने प्रदेश में सभी वर्गों के सहयोग से अब तक वैक्सीनेशन का शानदार प्रबंधन किया है आगे भी उसी भावना के साथ गांव-ढाणी तक 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग का शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित किया जाए।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कोविड की प्रथम डोज लगवाने वाली पांच किशोरी बालिकाओं की हौसला अफजाई की तथा उन्हें अपनी ओर से चॉकलेट भेंट की। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के खतरे ने दुनिया को हिलाकर रख दिया है। पहली एवं दूसरी घातक लहर झेलने के बाद अब ओमिक्रॉन वैरिएंट के रूप में नया खतरा सामने है। दुनिया के अधिकतर देशों में पहुंच चुके ओमिक्रोन वैरिएंट के कारण तेजी से फैलते संक्रमण को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसके सुनामी का रूप लेने की चेतावनी दी है। हमें इस खतरे की गंभीरता को समझना होगा और बड़ों से लेकर बच्चों तक का शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करना होगा।

श्री गहलोत ने कहा कि दुनिया के कई मुल्कों में लोगों को बूस्टर डोज लग रही हैं और क्यूबा जैसे देश में तो दो साल तक के बच्चों का वैक्सीनेशन प्रारंभ हो गया है। देश में भी 15 साल से कम आयु के बच्चों के निशुल्क टीकाकरण तथा सभी को बूस्टर डोज के सम्बन्ध में केन्द्र सरकार देशवासियों की जीवन रक्षा के लिए जल्द निर्णय करे। मुख्यमंत्री ने कहा कि ओमिक्रोन वैरिएंट से फैलते संक्रमण के दृष्टिगत स्वास्थ्यकर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर तथा 60 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को बूस्टर डोज तथा 18 वर्ष से कम आयु के नागरिकों का टीकाकरण शुरू करने के लिए मैंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा था। आखिरकार प्रधानमंत्री को इसकी घोषणा करनी पड़ी। इसकी मुझे खुशी है और आज देश में 15 से 18 वर्ष के किशोर-किशोरियों को वैक्सीन की डोज लगनी प्रारंभ हो गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान देश में मॉडल स्टेट बनकर उभरा है। प्रदेश में लक्षित आबादी के करीब 91.50 प्रतिशत अर्थात 4 करोड़ 70 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 75 प्रतिशत से अधिक अर्थात 3 करोड़ 54 लाख से अधिक लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। इस प्रकार करीब 8 करोड़ 25 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। इस मामले में हम राष्ट्रीय औसत से कहीं आगे हैं।

श्री गहलोत ने कहा कि बीते दो साल से कोविड की विषम परिस्थितियों के बावजूद सरकार ने सुशासन देने में कोई कमी नहीं छोड़ी। हर वर्ग के कल्याण के लिए एक से बढ़कर एक योजनाएं प्रारंभ की गई हैं। बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए प्रदेश के 30 जिलों में सरकारी मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं। साथ ही उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए 123 सरकारी कॉलेज खोले गये हैं। जिनमें 33 महिला महाविद्यालय हैं। हमने निर्णय किया है कि जिन विद्यालयों की उच्च माध्यमिक कक्षाओं में 500 से अधिक छात्राएं होंगी वहां महाविद्यालय खोला जाएगा। कार्यक्रम में उन्होंने राजकीय आदर्श बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय गणगौरी बाजार को इस आधार पर कॉलेज के रूप में क्रमोन्नत करने की घोषणा की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.