दिल्ली ने दुनिया को कोरोना से लड़ने के नए तरीके व तकनीक दिए: CM केजरीवाल
दिल्ली ने दुनिया को कोरोना से लड़ने के नए तरीके व तकनीक दिए: CM केजरीवालTwitter

दिल्ली ने दुनिया को कोरोना से लड़ने के नए तरीके व तकनीक दिए: CM केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये दावा किया- दिल्ली वालों ने मिलकर कोरोना की तीसरी लहर पर काफी हद तक काबू पा लिया। दिल्ली ने पूरी दुनिया को कोरोना से लड़ने के लिए नई तकनीक व नए तरीके दिए हैं

दिल्ली, भारत। देश की राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में महामारी कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बीच-बीच में इसकी जानकारी साझा करते रहते हैै और आज शनिवार को उन्‍होंने ये दावे किए हैं।

दिल्ली ने कोरोना की सबसे ज़्यादा मुश्किल लड़ाई लड़ी :

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज ये कहा कि, ''दिल्ली ने पूरे देश में कोरोना की सबसे ज़्यादा मुश्किल लड़ाई लड़ी। पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर चल रही थी। ऐसा लगता है कि हम सब दिल्ली वालों ने मिलकर कोरोना की तीसरी लहर पर काफी हद तक काबू पा लिया है।''

दिल्ली में रोज़ 90,000 टेस्ट हो रहे :

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया- हमने दिल्ली में सबसे ज़्यादा महत्व टेस्ट करने को दिया, आज दिल्ली में रोज़ क़रीब 90,000 टेस्ट हो रहे हैं। अमेरिका में हर 10 लाख की आबादी पर 4,300 टेस्ट हो रहे हैं और दिल्ली में 4,500 टेस्ट हो रहे हैं। एक समय ऐसा था नवम्बर में जब हम 100 लोगों का टेस्ट करते थे तो 15.6% लोग पॉजिटिव निकलते थे, आज ये आंकड़ा 1.3% पर आ गया है।

आज जो रिपोर्ट आएगी उसमे 87 हज़ार टेस्ट में से केवल 1133 लोग पॉजिटिव आए हैं। आज दिल्ली में हर दिन 4500 टेस्ट प्रति मिलियन हो रहे हैं। वहीं उत्तर प्रदेश में हर दिन 670 टेस्ट प्रति मिलियन हो रहे हैं। गुजरात में हर दिन 800 टेस्ट प्रति मिलियन हो रहे हैं।

CM अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के कोविड मैनेजमेंट का नतीजा :

CM अरविंद केजरीवाल ने कहा- जब न्यूयॉर्क में एक दिन में 6300 केस आए थे, उस समय वहाँ के अस्पतालों में अफरा तफरी का माहौल था, लेकिन दिल्ली में 8600 केस आने के बाद भी कोई अफरा-तफरी का माहौल नहीं था। उस दिन हमारे पास 7000 बेड्स खाली थे। ये सब दिल्ली के बेहतर कोविड मैनेजमेंट का नतीजा था।

कोरोना से लड़ने के लिए दिए नई तकनीक और तरीके :

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये दावा भी किया कि, ''दिल्ली ने पूरी दुनिया को कोरोना से लड़ने के लिए नई तकनीक और नए तरीके दिए हैं। प्लाज्मा थेरपी, होम आइसोलेशन और कोरोना वारियर्स शहीद होने पर उनके परिवार को 1 करोड़ की राशि इसी के कुछ उदाहरण है। मैं आज दिल्ली के सभी लोगों को और कोरोना वारियर्स को धन्यवाद देता हूँ। साथ ही सभी धार्मिक, सामाजिक और सरकारी संस्थानों का भी सहयोग के लिए धन्यवाद करता हूँ। अभी भी लड़ाई खत्म नही हुई है, जब तक कोरोना की दवाई नहीं आती, हम सभी को सावधानी बरतनी होगी।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co