Raj Express
www.rajexpress.co
Delhi Pollution
Delhi Pollution|Social Media
उत्तर भारत

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने अपनाया ये फंडा

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण की स्थिति लगातार बढ़ती ही जा रही है, सभी शहरों की हालत बेहद खराब है, प्रदूषण का स्तर 700 के पार हो चुका है, जिसके चलते दिल्ली सरकार ने पुराना फंडा ऑड-ईवन अपनाया है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्सप्रेस। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रदूषण (Delhi Pollution) घटने का नाम नहीं ले रहा और प्रदूषण की स्थिति बेहद खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है। शहर में जहरीली हवा का कहर बढ़ता ही जा रहा है, जिससे लोगों का रहना मुश्किल हो रहा है। आज अर्थात 4 नवम्बर को सुबह 7 बजे दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) का आंकड़ा 708 रिकॉर्ड किया गया और हवा में प्रदूषण की मात्रा 924 तक पहुंच गई है।

वहीं अगर हम दिल्ली-एनसीआर के अलग-अलग जगहों की बात करें, तो हालात और भी ज्यादा खतरनाक स्तर पर हैं।

  • वजीरपुर में वायु गुणवत्ता सूचकांक 919 है।

  • आनंद विहार में 924 है।

  • नोएडा सेक्टर 62 में 751 है।

  • वसुंधरा में 696 है।

  • पटपड़गंज में 622 है।

  • आईटीआई शाहदरा में यह आंकड़ा 897 है।

  • दिल्ली के चाणक्यपुरी में अमेरिकी दूतावास के पास AQI का आंकड़ा 478 है।

एक बार फिर ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू :

प्रदूषण की इस स्थिति के मद्देनजर व प्रदूषण को कुछ हद तक कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने दोबारा ऑड-ईवन (ODD EVEN) फॉर्मूला लागू किया है, जो 4 से 15 नवंबर तक लागू रहेगा।