आम आदमी पार्टी के कैंपनिंग वीडियो पर बवाल खड़ा हो गया है।
आम आदमी पार्टी के कैंपनिंग वीडियो पर बवाल खड़ा हो गया है।|Social media
उत्तर भारत

'आप' के वीडियो पर विवाद, भरना पड़ सकता है 500 करोड़ का जुर्माना

आम आदमी पार्टी के कैंपनिंग वीडियो पर बवाल खड़ा हो गया है। आप पार्टी का यह वीडियो बीजेपी को काफी आपत्तिजनक लगा और उन्होंने आप पार्टी और उसके मुखिया पर मानहानि का दावा ठोक दिया है।

रवीना शशि मिंज

राज एक्सप्रेस। आम आदमी पार्टी ने 11 जनवरी के दिन अपना एक कैंपन वीडियो जारी किया था। वीडियो भोजपुरी फिल्म के एक गाने का सहारे लेकर बनाया गया है, जिसमें मनोज तिवारी जो भोजपुरी फिल्म के मशहूर हीरो हैं और अब दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष हैं, थिरकते हुए नज़र आ रहे हैं।

इस वीडियो पर अब विवाद खड़ा हो गया है। बीजेपी ने इस वीडियो पर आपत्ति जताते हुए आम आदमी पार्टी और उसके प्रमुख अरविंद केजरीवाल को मानहानि का कानूनी नोटिस भेजकर उनसे 500 करोड़ रुपये के हर्जाने की मांग की है। यही नहीं चुनाव आयोग से शिकायत भी की गई है।

अपने ओछेपन का सबूत दे रहे केजरीवाल

'आप' के वीडियो पर आपत्ति जताते हुए दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी का कहना है कि, 'झूठ की मशीन कहे जाने वाले आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के झूठ का पर्दाफाश हो गया है। कलाकार रहते मैंने जो फिल्में और गाने किए उसकी क्लीपिंग और तस्वीरों को एडिट करके आम आदमी पार्टी के गाने पर लगाकर केजरीवाल अपने ओछेपन का सबूत दे रहे हैं। अपने थीम सॉन्ग पर मेरी फोटो लगा कर प्रसारित करने का हक आम आदमी पार्टी को किसने दिया? क्या केजरीवाल को ये नहीं पता कि व्यावसायिक तौर पर आप किसी की फोटो को बिना उसकी अनुमति के इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं?'

'केजरीवाल विधानसभा चुनाव में अपनी हार को देखते हुए इतने बौखला गए हैं कि, अपने विज्ञापन के लिए अब वो बच्चों, मजदूरों, महिलाओं के फोटो और वीडियो का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। असल में आम आदमी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता पूरी तरह निराश और हताश हो चुके हैं, क्योंकि उन्हें दिल्ली की जनता का समर्थन नहीं मिल रहा है। केजरीवाल की सभाओं में भी भीड़ नहीं आ रही है और इसलिए भीड़ जुटाने के लिए बाहर से लोग बुलाए जा रहे हैं।'

आप और बीजेपी का वीडियो वॉर

8 जनवरी को आप पार्टी ने एक वीडियो जारी किया था। वीडियो सीमेंट कंपनी का विज्ञापन था जिसे एडिट किया गया था, जिसमें अरविंद केजरीवाल को 'केजरीवॉल' दिखाया गया। एक ऐसी दीवार जिसे कांग्रेस और बीजेपी तोड़ने की कोशशि में जुटी हुई हैं पर वो दीवार टूट नहीं रही।

अगले दिन, 9 जनवरी को उसी सीमेंट विज्ञापन को एडिट कर बीजेपी पार्टी के ट्वीटर अकाउंट से शेयर किया गया। इसमें दीवार को राष्ट्रवाद का प्रतीक दिखाया गया। वीडियो में दिखाया कि, यह दीवार राष्ट्रवाद की दीवार है जिसको केजरीवाल और कन्हैया कुमार नाम के दो भाई तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन वो दीवार नहीं टूट रही।

10 जनवरी को बीजेपी द्वारा एक वीडियो जारी हुआ जिसमें एक निजी न्यूज चैनल के शो का नाम बदला गया और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा गया।

जिसके बाद आप द्वारा 11 जनवरी को वीडियो जारी किया जिसके बाद बीजेपी ने आम आदमी पार्टी पर मानहानी का दावा ठोक दिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co