उत्तर प्रदेश: राज्यसभा चुनाव से पहले विधायकों की बगावत से मुश्किल में बसपा

उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव के लिए बसपा प्रत्याशी रामजी गौतम के प्रस्तावक के तौर पर नाम वापसी की अर्जी देने वाले बसपा बागी विधायकों ने आज सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से बंद कमरे में मुलाकात की।
उत्तर प्रदेश: राज्यसभा चुनाव से पहले विधायकों की बगावत से मुश्किल में बसपा
उत्तर प्रदेश: राज्यसभा चुनाव से पहले विधायकों की बगावत से मुश्किल में बसपाPriyanka Sahu -RE

उत्तर प्रदेश, भारत। कोरोना महामारी के संकट काल में देश के कई राज्‍यों में चुनाव की सरगर्मियां चरम पर हैं। उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव होने हैं, इससे पहले समाजवादी पार्टी अखिलेश यादव के मास्टरस्ट्रोक से बैकफुट पर आई बहुजन समाजवादी पार्टी (BSP) को एक झटका लग सकता है।

अखिलेश से मिले बसपा के 5 विधायक :

राज्यसभा चुनाव के लिए बसपा प्रत्याशी रामजी गौतम के प्रस्तावक के तौर पर नाम वापसी की अर्जी देने वाले बसपा विधायकों ने आज बुधवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की और विधायकों की बगावत के कारण बसपा की अध्‍यक्ष मायावती को तगड़ा झटका व मुश्किल में पड़ी बसपा। प्रस्तावक के रूप में नाम वापस लेने की अर्जी देने वाले इन सभी विधायकों के नाम 'असलम राईन, असलम चौधरी, गोविंद भार्गव, हाकिम सिंह बिंद और मुज्तबा सिद्दीकी' हैं।

जानकारी के अनुसार, इन 5 बागी विधायकों के साथ एक और विधायक सुषमा पटेल ने भी अखिलेश यादव से मिलने सपा कार्यालय पहुंचे और सभी की बंद कमरे में मुलाक़ात हुई है।

वहीं, इससे पहले कल यानी मंगलवार को बसपा विधायक असलम चौधरी की पत्नी ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन की थी और अब ये खबर आ रही हैै कि, नाम वापसी की अर्जी देने वाले बसपा के पांचों बागी विधायक समाजवादी पार्टी से टिकट चाहते हैं और यह भी जानकारी मिली की एक दो और विधायक सपा में शामिल हो सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co