Manoj Mukund Naravane
Manoj Mukund Naravane|Social Media
उत्तर भारत

सेना दिवस के विशेष मौके पर नए सेना प्रमुख की पाक को चेतावनी

नए सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने सैनिकों को संबोधित करते हुए अपने विचार साझा किए, आइये देखें सेना दिवस पर उन्‍होंने किन तथ्‍यों का जिक्र किया व क्‍या-क्‍या बातें कहीं...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। आज अर्थात 15 जनवरी को सेना दिवस की 72वीं वर्षगांठ के मौके पर भारतीय सेना के नए सेना प्रमुख व थलसेनाध्यक्ष मनोज मुकुंद नरवणे (Manoj Mukund Naravane) ने राजधानी दिल्ली में सैनिकों को संबोधित करते हुए अपने विचार साझा किए, आइये देखें इस दौरान उन्‍होंने किन तथ्‍यों का जिक्र किया व क्‍या-क्‍या बातें कहीं...

आर्टिकल 370 एक ऐतिहासिक कदम :

जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने कश्मीर से 'आर्टिकल 370' हटाने का जिक्र करते हुए इसे एक ऐतिहासिक कदम बताया है, उनका कहना है 'आर्टिकल 370' से कश्मीर ना केवल, बाकी देश के साथ मुख्य अर्टिकल में शामिल हुआ है, बल्कि घाटी में अशांति फैलाने की पाकिस्तान की कोशिशें भी असफल हुई हैं। इतना ही नहीं, बल्कि उन्‍होंने जनरल नरवणे ने सख्त लहज़े में यह बात भी कहीं कि, ''कश्मीर में अर्टिकल 370 हटने से पाकिस्तान के मंसूबों पर पर पानी फिर गया है।''

जनरल मनोज मुकुंद नरवणे द्वारा कहीं गई यह बातों से साफ झलकता है कि, उनका यह इशारा 'आर्टिकल 370' हटने के बाद घाटी में शांति की तरफ था।

पाकिस्‍तान को दी चेतावनी :

इस दौरान थलसेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने पाकिस्‍तान पर जमकर बरसे और यह चेतावनी दी कि, ''भारत के पास आतंकवाद से लड़ने के लिए कई विकल्प मौजूद हैं और भारतीय सेना उनके इस्तेमाल में जरा भी नहीं हिचकिचाएगी।'' वहीं, देश के लिए अपनी जान न्‍यौछावर कर देने वाले वीर सैनिकों की शहादत को याद करते हुए कहा कि, हमारे देश की चाहे पश्चिमी सीमा (पाकिस्तान से सटी हुई) या फिर उत्तरी सीमा हो (चीन से सटी हुई) सभी सुरक्षित हैं।

बता दें कि, दिल्ली में 72वें आर्मी डे के मौके पर करियप्पा परेड ग्राउंड पर हुए कार्यक्रम में जब नए सेना प्रमुख सैनिकों को संबोधित कर रहे थे, उस वक्‍त वहां नौसेना और वायुसेना प्रमुखों के साथ-साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत मौजूद थे। आखिर क्‍या है 15 जनवरी को 'इंडियन आर्मी डे' मनाने का कारण, इसकी विस्‍तृत जानकारी जानने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर-

सेना के जज्‍बे को सलामी देता "सेना दिवस"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co