गोंडा में अगवा मासूम बेटे को 17 घंटे में सकुशल किया बरामद
गोंडा में अगवा मासूम बेटे को 17 घंटे में सकुशल किया बरामद|Priyanka Sahu -RE
उत्तर भारत

उत्तर प्रदेश: गोंडा में अगवा मासूम बेटे को 17 घंटे में सकुशल किया बरामद

उत्तर प्रदेश के गोंडा में दिनदहाड़े किराना व्यवसायी के बेटे को अगवा किया और 4 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई थी, लेकिन पुलिस ने 17 घंटे में सकुशल बच्‍चे को बरामद कर 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश के कानपुर में लैब टेक्नीशियन संजीत अपहरण व हत्‍या मामले के बाद अब गोंडा जिले के करनैलगंज कस्बे से अपहरण का मामला सामने आया है। यहां गोंडा से एक किराना व्यवसायी के 8 वर्षीय पोते को शुक्रवार की दोपहर मास्क व सैनिटाइजर बांटने के बहाने बदमाशों ने अगवा कर लिया।

4 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी :

बताया गया है कि, बच्चे को छोड़ने के लिए व्यवसायी से 4 करोड़ रुपये की मांग की गई है और ये घटना पूरी फिल्मी स्टाइल में हुई, तो वहीं इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है एवं ये पूरी घटना CCTV कैमरे में कैद हो गई, इसी के सहारे से पुलिस ने मामले की छानबीन में जुटी और शनिवार सुबह सर्विलांस के जरिए गोंडा में ही भौरीगंज रोड पर अपहरणकर्ताओं की लोकेशन मिली, पुलिस ने बच्‍चे को सकुशल बरामद कर लिया है।

पुलिस-बदमाशों के बीच मुठभेड़ :

इस दौरान एसटीएफ और पुलिस टीम ने अपहरणकर्ताओं पीछा किया, तो कार एक खंभे से टकरा गई, फिर दो अपहरणकर्ता कार से उतरकर भागने लगे और दोनों ने पुलिस टीम पर फायर किया, जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई में अपहरणकर्ताओं को दबोच लिया। बताया गया है कि, पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में दो-दो आरोपियों के पैर में गोली भी लगी है।

एडीजी लाॅ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि, ''एसटीएफ और जिला पुलिस के जॉइंट ऑपरेशन में सुबह सवा सात बजे यह सफलता मिली। इस मामले में एक युवती समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। गोली लगने से घायल दो बदमाशों को जिला अस्पताल भेजा गया है।'' तो वहीं, सकुशल रिहाई कराने वाली एसटीएफ की टीम को सरकार ने 2 लाख का इनाम दिया है।

गिरफ्तार चारों अपराधियों का विवरण:

  • पहले अपराधी का नाम सूरज पांडे है, जो राजेंद्र पांडे का पुत्र है और शाहपुर थाना परसपुर, जनपद गोंडा का रहने वाला है।

  • दूसरा अपराधी छवि पांडे है, जो शाहपुर थाना परसपुर, जनपद गोंडा का निवासी है।

  • तीसरे अपराधी का नाम उमेश यादव है, जो रमाशंकर यादव का बेटा है और सकरोड़ा पूर्वी थाना करनैलगंज जनपद गोंडा का रहने वाला है।

  • चौथा अपराधी दीपू कश्यप है, जो राम नरेश कश्यप का बेटा है और सोनवारा, थाना करनैलगंज, जनपद गोंडा का निवासी है।

यह है पूरा मामला :

गोंडा जिले के करनैलगंज कस्बे के मोहल्ला गाड़ी बाजार में पुलिस चौकी के पीछे गुटखा कारोबारी राजेश कुमार गुप्ता रहते हैं। शु‍क्रवार को स्वास्थ्य विभाग का परिचय पत्र गले में टांग कर कुछ लोग मोहल्ले में मास्क और सैनिटाइजर बांट रहे थे, यहां लोगों के नाम भी एक कागज पर लिख रहे थे, बदमाश कार से आए थे। अपहरणकर्ता राजेश गुप्ता के घर के सामने पहुंचे, तो उन्होंने जानकारी ली और कहा, बेटे नमो को साथ भेज दीजिए, उसे कार से सैनिटाइजर निकाल कर दे देते हैं।

इतना कहकर बच्चे के साथ बदमाश निकले और कार में बैठाकर फरार हो गए। इस बारे में परिवार वालों को यह जानकारी तब हुई जब बच्चे के पिता हरी गुप्ता के मोबाइल पर बदमाशों ने कॉल कर जानकारी देते हुए कहा कि, आपके बच्चे का अपहरण हो गया है। 4 करोड़ रुपए की व्यवस्था कर लो, अपहरणकर्ताओं में कोई महिला शामिल नहीं थी, मगर जो फोन आया तब एक महिला बात रही थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co