Raj Express
www.rajexpress.co
शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों के चहेते 4 माह के मासूम की मौत
शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों के चहेते 4 माह के मासूम की मौत|Priyanka Sahu -RE
उत्तर भारत

शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों के चहेते 4 माह के मासूम की मौत

शाहीन बाग प्रदर्शन में रोजाना एक महिला अपने 4 महीने के बच्‍चे को लेकर प्रदर्शन का हिस्‍सा बन रही थी, इसी के चलते बच्‍चे को ठंड लगने से उसकी मौत हो गई है, लेकिन फिर भी मां-बाप का हौसला डगमगाया नहीं...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। राजधानी दिल्‍ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ लगातार हो रहे प्रदर्शन का मामला काफी सुर्खियों में छाया हुआ है, यहां कभी फायंरिग की घटना, तो कभी किसी की मौत होने की खबर सामने आ रही है। अब हाल ही में यह खबर सामने आई है कि, शाहीन बाग प्रदर्शन के पहले दिन से ही एक महिला अपने 4 माह के बच्‍चे को लेकर रोज इस प्रदर्शन का हिस्‍सा बन रही थी और पिछले कुछ दिनों में ठंड का प्रकोप भी काफी अधिक था, कड़कड़ाती ठंड के चलते हो रहे इस प्रदर्शन के दौरान ठंड लगने की वजह से इस बच्‍चे की मौत हो गई है।

प्रदर्शन स्थल पर सभी का चहेता था बच्‍चा :

बताया जा रहा है कि, शाहीन बाग के प्रदर्शन स्थल पर 4 माह का मासूम मोहम्मद अपनी मुस्कराहट से सभी का चहेता बना हुआ था और उसकी मां रोज आई लव माई इंडिया वाली टोपी पहना कर लाती थी। यहां मौजूद प्रदर्शनकारी उस बच्‍चे को अपनी गोद में लेकर खिलाते थे, तो कभी उसके गालों पर तिरंगा बना देते थे।

मासूम बच्‍चे की मौत का कारण :

शाहीन बाग में खुले में प्रदर्शन के दौरान इस मासूम बच्‍चे को ठंड लग गई थी, जिससे उसे जुकाम और सीने में जकड़न हो गई, लेकिन बच्‍चे के पिता आरिफ ने बेटे की मौत का कारण CAA बताया है। हैरानी वाली बात तो यह है कि, बच्‍चे की मौत होने पर भी मां-बाप का हौसला डगमगाया नहीं है, बच्‍चे की मां नाजिया भले ही बेटे की मौत से टूट तो गई हो, लेकिन अब भी प्रदर्शन में हिस्सा लेने के फैसले पर अटल है। नाजिया का कहना है, 'यह मेरे बच्चों के भविष्य के लिए है। अपने बाकी बच्चों के भविष्य के लिए CAA के खिलाफ लड़ाई लड़ेगी।'

बच्‍चे के पिता आरिफ जहां ने कहा कि, 'कढ़ाई के काम के अलावा, ई-रिक्शा चलाने के बावजूद मैं पिछले महीने पर्याप्त नहीं कमा सका। अब मेरे बच्चे का इंतकाल हो गया, हमने सब कुछ खो दिया।'

बता दें कि, मूल रूप से यूपी के बरेली के रहने वाला मोहम्मद आरिफ, पत्नी नाजिया व 3 बच्चों के साथ बटला हाउस इलाके में प्लास्टिक और पुराने कपड़े से बनी छोटी सी झुग्गी में रहते हैं। वहीं 4 माह का मासूम मोहम्मद की मौत के बाद उसके परिवार में 5 साल की बेटी और डेढ़ साल का बेटा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।