UP के गाजियाबाद में बदमाशों ने सरेआम चलाई गोली-पत्रकार की मौत
UP के गाजियाबाद में बदमाशों ने सरेआम चलाई गोली-पत्रकार की मौत|Social Media
उत्तर भारत

UP के गाजियाबाद में बदमाशों ने सरेआम चलाई गोली-पत्रकार की मौत

उत्‍तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में भांजी के साथ छेड़खानी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने पर पत्रकार विक्रम जोशी को बदमाशों ने गोली मारी, इलाज के वक्‍त उन्‍होंने तोड़ा दम। 9 आरोपी अरेस्‍ट, चौकी इंचार्ज सस्पेंड

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

उत्‍तर प्रदेश, भारत। दिल्ली से सटे व उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक पत्रकार की हत्‍या का मामला सामने आया है कि, आज बुधवार सुबह घायल पत्रकार विक्रम जोशी की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई हैं।

क्‍या है मामला?

दरअसल, बीते सोमवार रात के वक्‍त बदमाशों ने पत्रकार विक्रम जोशी सरेआम उनके सिर में गोली मारी थी, क्योंकि उसने 16 जुलाई को भांजी के साथ हुई छेड़छाड़ की शिकायत की थी। हालांकि, जिस वक्‍त पत्रकार पर हमला हुआ उस वक्‍त उनकी दो बेटियां भी उनके साथ थीं, इसके बाद पत्रकार को यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन गंभीर रूप से घायल विक्रम को बचाया नहीं जा सका। इस मामले में पुलिस ने 9 आरोपी को गिरफ्तार किया है, तो वहीं चौकी इंचार्ज को लापरवाही बरतने पर सस्पेंड भी कर दिया गया।

बताया गया है कि, गाज़ियाबाद में पत्रकार ने अपनी भांजी के छेड़ने की तहरीर पुलिस को दी थी, पुलिस ने ना तो कोई कार्रवाई की और ना ही किसी की गिरफ्तारी की। इसके बाद तहरीर देने से नाराज़ बदमाशों ने सोमवार की देर रात पत्रकार को गोली मार दी। थाना विजयनगर क्षेत्र के अंतर्गत हुई घटना के संबंध में एसपी सिटी ने बताया कि, इस घटना के मुख्य आरोपी रवि सहित अन्य को गिरफ्तार किया गया है।

पत्रकार का शव लेने से परिवार का इंकार :

वहीं, पत्रकार विक्रम जोशी के भांजे का कहना है कि, ''कमाल-उ-दीन के बेटे सहित कुछ लड़के मेरी बहन के साथ छेड़छाड़ करते थे, मेरे मामा घर आ रहे थे, जब कमाल-उ-दीन के बेटे ने उन पर हमला किया और उन्हें गोली मार दी, मुख्य आरोपी के पकड़े जाने तक हम अपने मामा के पार्थिव शरीर को नहीं लेंगे।'' आगे विक्रम जोशी के भांजे ने ये भी कहा कि, मेरा घर माता कॉलोनी में है, मेरी बहन पर ये लोग कमेंट करते थे। मेरे मामा ने विरोध किया, इसके बाद कमाल-उल-दीन के लड़के ने मेरे मामा के सिर में गोली मारी है। मामा मेरी बहन के बर्थडे को सेलिब्रेट करने आ रहे थे और मेरे मामा को 15-20 बदमाशों ने पहले बहुत मारा, फिर गोली मार दी। हम जबतक पहुंचते, तबतक काफी देर हो चुकी थी, हम तो अब इंसाफ चाहते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co