Raj Express
www.rajexpress.co
 Mehbooba Mufti
Mehbooba Mufti |Social Media
उत्तर भारत

जम्मू-कश्मीर: महबूबा का भाजपा से सवाल-क्या कर रहे 9 लाख सैनिक?

श्रीनगर: नजरबंद नेता महबूबा मुफ्ती ने आज भाजपा को घेरा, वहीं आर्टिकल 370 हटने के बाद हिरासत में लिए गए 3 नेताओं को आज प्रशासन ने रिहा कर दिया है व पर्यटकों को राज्य में आने की अनुमती भी मिल गई है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री व नजरबंद नेता महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने आज 10 अक्‍टूबर को भारतीय जनता पार्टी (BJP) को घेरते हुए कहा कि, पार्टी को न ही सेना के जवानों की चिंता है और न कश्मीरियों की, उसे सिर्फ चुनाव जीतने से मतलब है। इसके अलावा उन्‍होंने ट्विटर हैंडल में बीजेपी से यह सवाल भी किया।

ट्विटर पर लिखा-

महबूबा मुफ्ती ने ट्विटर हैंडल से ये सवाल किया गया कि, ‘‘अगर कश्मीर में सब कुछ सामान्य है तो वहां 9 लाख सैनिक क्या कर रहे हैं? वे पाकिस्तान की ओर से होने वाले किसी हमले को रोकने के लिए वहां नहीं हैं, बल्कि विरोध प्रदर्शन को दबाने के लिए हैं। सेना की प्राथमिक जिम्मेदारी सीमाओं की सुरक्षा करना है, न कि असंतोष को कुचलना।’’

भाजपा का ध्यान सिर्फ चुनाव पर :

महबूबा मुफ्ती ने एक अन्‍य ट्वीट पर ये भी लिखा- ''बीजेपी वोट पाने के लिए जवानों के कार्ड का इस्तेमाल करती है और उनके बलिदानों का अपहरण करती है, लेकिन सच्चाई यह है-अगर कश्मीरियों को तोपों के चारे के रूप में माना जाता है, तो घाटी में अशांति फैलाने के लिए सेना के मोहरे बन गए हैं। सत्तारूढ़ दल जवानों या कश्मीरियों की परवाह नहीं करता है, उनका ध्यान सिर्फ चुनाव जीतने पर है।''

बता दें कि, महबूबा मुफ्ती के हिरासत में लिए जाने के बाद से उनकी बेटी इल्तिजा मुफ्ती उनके ट्विटर हैंडल को चला रही हैं।

पर्यटकों को राज्य में आने की अनुमति :

बता दें कि, राज्य से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से निगरानी में रखे गए ये 3 नेताओं यावर मीर (पीडीपी), शोएब लोन (कांग्रेस) और नूर मुहम्मद (नेशनल कॉन्फ्रेंस) को आज रिहा कर दिया, साथ ही पर्यटकों को राज्य में आने पर पाबंदी लगा दी गई थी, लेकिन यह अनुमति भी हटा दी गई है। अब पर्यटक घाटी में घूमने जा सकेंगे और अब उन्हें पूरी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगीं।