दिल्ली दंगों में आरोपियों के खिलाफ 15000 पेज की चार्जशीट कोर्ट में दायर
दिल्ली दंगों में आरोपियों के खिलाफ 15000 पेज की चार्जशीट कोर्ट में दायर|Priyanka Sahu -RE
उत्तर भारत

दिल्ली दंगों में आरोपियों के खिलाफ 15000 पेज की चार्जशीट कोर्ट में दायर

दिल्ली दंगों के मामले की चार्जशीट दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कड़कड़डूमा अदालत में दायर की, जो करीब 15-20 हजार से भी अधिक पन्नों की है और इस चार्जशीट में 15 लोगों को आरोपी बनाया गया है।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

दिल्‍ली, भारत। देश में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के नाम पर राष्ट्रीय राजधानी में भड़के दंगों ने पूरे देश को झकझोर करके रख था, हर तरफ अशांति का माहौल बना था और आज दिल्ली दंगों के मामले की चार्जशीट दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कड़कड़डूमा अदालत में दायर की है।

चार्जशीट में 15 लोगों को आरोपी :

कड़कड़डूमा अदालत में दायर की ये चार्जशीट तकरीबन 15-20 हजार पन्नों से भी अधिक की है और इसमें 15 लोगों को आरोपी बनाया गया है। इन पर गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून आर्म्स एक्ट और भारतीय दंड संहिता की अलग-अलग धाराएं लगाई गई हैं। पुलिस की स्पेशल सेल अपने दफ्तर से चार्जशीट से भरे बक्से लेकर 2 गाड़ियों में निकली थी, साथ में डीसीपी कुशवाहा भी मौजूद थे।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा कड़कड़डूमा कोर्ट में दिल्ली दंगों के 15 आरोपियों के खिलाफ बुधवार को गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून (UAPA), आईपीसी और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत चार्जशीट दी है। हालांकि, दिल्ली दंगों के मामले की इस चार्जशीट में उमर खालिद और शरजील इमाम का आरोपी के तौर पर जिक्र नहीं है। उनका नाम सप्लीमेंट्री चार्जशीट में शामिल किया जाएगा। वहीं, स्पेशल सेल ने कोर्ट में चार्जशीट पेश करते हुए कोर्ट में कहा कि, ''उसके पास 747 गवाह हैं, इसके साथ ही आरोपियों की व्हाट्सअप चैट, टेकनिकल एविडेंस और अन्य डाक्यूमेंट्स भी हैं, जिससे आरोपियों की दंगा भड़काने में भूमिका साबित होती है। फिलहाल अभी जांच जारी है, बाद में सप्लिमेंट्री चार्जेशीट दायर की जाएगी।''

पुलिस रिमांड पर उमर खालिद :

बता दें, दिल्ली दंगा मामले में गिरफ्तार किए गए जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद को रविवार देर रात गिरफ्तार किया गया था, वह 24 सिंतबर तक पुलिस रिमांड पर है। जबकि, शरजील इमाम पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं।

गौरतलब है कि, नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच संघर्ष के बाद 24 फरवरी को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, घोंडा, चांदबाग, शिव विहार, भजनपुरा, यमुना विहार इलाकों में साम्प्रदायिक दंगे भड़क गए थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co