ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा में अधेड़ दंपत्ति की हत्या से फैली सनसनी

ग्रेटर नोएडा, उत्तर प्रदेश : घटना इलाके की चेरी काउंटिंग सोसाइटी में हुई। मृतकों का नाम विनय कुमार गुप्ता और नेहा गुप्ता बताया गया है। घटना से सोसाइटी में सनसनी फैल गयी।
ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा में अधेड़ दंपत्ति की हत्या से फैली सनसनी
ग्रेटर नोएडा में बुजुर्ग दंपति की हत्या से फैली सनसनीSocial Media

ग्रेटर नोएडा, उत्तर प्रदेश। दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर जिले के ग्रेटर नोएडा वेस्ट के बिसरख थाना इलाके में बुधवार की सुबह अधेड़ दंपत्ति की हत्या कर दी गई जिससे सनसनी फैल गयी।

यह घटना इलाके की चेरी काउंटिंग सोसाइटी में हुई। मृतकों का नाम विनय कुमार गुप्ता और नेहा गुप्ता बताया गया है। पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि किसी ने दंपत्ति की हत्या सर पर कोई चीज मारकर की है। पुलिस को मकान से एक पीतल का दीपदान मिला है जिस पर खून के निशान लगे थे।

घटना के बाद मौके पर पुलिस डॉग्स स्क्वाड, फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम और क्राइम ब्रांच के जांचकर्ता मौके पर पहुंचे हैं। एडिशनल सीपी लॉ एंड ऑर्डर लव कुमार के मुताबिक आज सुबह पुलिस को सूचना मिली कि बिसरख कोतवाली क्षेत्र में पड़ने वाली चेरी काउंटिंग सोसाइटी के टॉवर नंबर 2 के नौवें फ्लोर एक फ्लैट में एक अधेड़ दंपत्ति की मौत हो गई है। सूचना के आधार पर पुलिस मौके पर पहुंची तो मकान में खून से लथपथ दंपत्ति के शव पड़े थे।

मृतक विनय का सोसाइटी की मार्किट में ग्रॉसरी का स्टोर था, उस स्टोर की वजह से ही पिछले डेढ़ दो महीने से इस सोसाइटी में वे किराए का मकान ले कर रह रहे थे।

प्रारंभिक जांच के अनुसार इस हत्या में किसी जानकार का हाथ है क्योंकि सुबह जब घरवाले यहां पर आए तो दरवाजा खुला हुआ था और घटना स्थल को देखने पर भी ऐसा प्रतीत होता है कि संभवत कोई ऐसा व्यक्ति रहा है जो जान-पहचान वाला है। इसके लिए दरवाजा खोला गया था। पुलिस का कहना है कि मौके पर फोर्स एंट्री के निशान नहीं मिले हैं और न ही घर का समान बिखरा हुआ है।

श्री कुमार ने कहा कि हत्या के कारणों की अभी जांच जारी है, इस संभावना से इनकार नहीं किया आपसी दुश्मनी के कारण ये हत्या हुई हो। परिवार के लोगों से बातचीत चल रही है कि कोई पुरानी दुश्मनी तो नहीं है अब तक कोई ऐसी बात निकल कर नहीं आई है काफी समय से नोएडा के पृथला के एरिया में किसी सोसाइटी में रहते थे, बाकी परिवार के लोग वहीं रहते हैं, यह लोग डेढ़ महीने पहले ही शिफ्ट किए हैं। इनका ग्रॉसरी का काम है, हत्या के लिए जिन चीजों का इस्तेमाल किया गया है उनमें घर में रखा हुआ पीतल का दीपदान और अन्य समान है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co