Smriti Irani Reaction in Hindustan Summit 2020
Smriti Irani Reaction in Hindustan Summit 2020|Social Media
उत्तर भारत

हिन्दुस्तान शिखर समागम 2020: देश के हालातों पर ईरानी के बेबाक जवाब

लखनऊ में इस साल 5वें हिन्दुस्तान शिखर समागम में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने देश के मौजूदा हालातों पर बेबाक अंदाज में यानी खुलकर अपनी राय व्‍यक्‍त की। जानें ऐसा क्‍या कहा उन्‍होंने...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। 22 फरवरी को '5वां हिन्दुस्तान शिखर समागम' लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित किया गया, जहां केंद्रीय महिला कल्याण, बाल विकास और कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने देश के मौजूदा हालातों पर अपनी राय व्‍यक्‍त की। बताते चलें कि, इस साल 2020 की थीम- 'नए दौर का नया नजरिया' रखी गई है।

क्‍या है हिन्दुस्तान शिखर समागम?

दरअसल, हिन्दुस्तान शिखर समागम में सत्ता-राजनीति, खेल, मनोरंजन से लेकर देश के विकास की बातें होती हैं। 'हिन्दुस्तान शिखर समागम' में कुछ नामचीन हस्तियां शामिल होकर नए भारत के निर्माण की राह में मौजूदा चुनौतियों एवं उनके समाधान पर चर्चा करते हुए अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करती हैं।

क्‍या बोली स्मृति ईरानी?

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने 'हिन्दुस्तान शिखर समागम' के मंच पर अपने संबोधन में बेबाक अंदाज में कई मुद्दों पर देश-प्रदेश के विकास पर यह बातें कहीं...

शाहीन बाग प्रदर्शन पर क्‍या बोली स्मृति ईरानी :

दिल्‍ली के शाहीन बाग विरोध-प्रदर्शन पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा- जब गोद में खेलते बच्चों से कहा जाता है कि कहो प्रधानमंत्री का कत्ल कर देंगे, देश के संविधान को नहीं मांनेगे, तो यह ममता नहीं है, गोद लिए बच्चे की मौत हो जाए तो यह जिहाद नहीं है। नागरिकता कानून पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के अल्पसंख्यकों के लिए है, देश की औरतों के लिए है ही नहीं।

देश की संसद देश के नागरिक के साथ पक्षपात नहीं कर सकता। सलमान खुर्शीद की जिम्मेदारी नहीं बनती कि वे जाकर अपने कौम को समझाएं। हमको निर्णय करना होगा कि देश के लिए आहुति में हमारे साथ है क्या?
स्मृति ईरानी

शाहीन बाग नहीं जाने पर स्मृति ईरानी ने कहा-

CAA का विरोध करने वालों को हिन्दुस्तान की सरकार, न्यायपालिक पूरा अधिकार देती है, लेकिन यह कहां लिखा है कि आपके कहने पर आपके बताए जगह पर जाऊं।

हिन्दुस्तान सबका है : स्मृति ईरानी

स्मृति ईरानी का कहना है कि, हिंदुस्तान में बेटियों का बलात्कार किया जाता है, तो मेरा यह गौरव है कि मैं मोदी के नेतृत्व में उनको और उनके परिवार को शरण दूं। एक हिन्दुस्तान होने के नाते यह मेरा गौरव है जो पाकिस्तान, बांग्लादेश की अल्पसंख्य महिला को शरण दे। इस दौरान ईरानी ने वारिस पठान द्वारा दिये गये विवादित बयान पर भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा-

"मैं उन्हें क्या समझाऊं... जो PM मोदी की हत्या की बात करते हैं। क्या समझाऊं उन्हें, जो कहते हैं कि, 15 करोड़ 100 करोड़ पर भारी हैं। मोदी का कत्ल होगा, वहां ऐसा बुलवाया जा रहा है, देश की आहूति देने की योजना बना रहें लेकिन आप स्वाहा होंगे। हिन्दुस्तान सबका है, माइनॉरिटी, मेजोरिटी कुछ नहीं।"

विपक्ष को मोदी से समस्या है :

इस दौरान स्मृति ईरानी ने यह बात भी कही कि, ''राजनीतिक दल चाहे कांग्रेस या कोई और हो, नहीं चाहेंगे कि बीजेपी और माइनॉरिटी एक साथ है। इन लोगों ने 70 साल से भय से शासन किया है। विपक्ष के लोगों को सरकार से नहीं बल्कि मोदी से समस्या है।''

कांग्रेस को लिया आड़े हाथ :

कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए स्मृति ईरानी ने यह बात भी कही कि, ''नरेंद्र मोदी सिर्फ उनके प्रधानमंत्री नहीं, जिन्होंने वोट दिया, बल्कि वे उनके भी PM हैं और जिन्होंने वोट नहीं दिया।''

मुझसे पूछा जाता है कौन सा ईरानी?

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने यह बात का भी जिक्र करते हुए कहा कि, मेरे नाम के साथ ईरानी जुड़ा है, इस कारण मुझे कई एयरपोर्ट पर रोका गया और मुझसे पूछा जाता है कौन सा ईरानी? मैं जवाब देती हूं हिन्दुस्तान वाला ईरानी! अगर देश से प्रेम करने को भगवा कहते हैं, तो मुझे गर्व है कि मेरा रंग भगवा है। जिसकी जैसी नजर उसकी वैसी खबर।

अर्थव्यवस्था पर स्मृति ईरानी का कहना :

अर्थव्यवस्था पर विपक्ष के सवाल पर स्मृति ईरानी का यह कहना है, प्रधानमंत्री बार-बार कहते हैं कि सदन में चर्चा करते हैं, पर विपक्ष नहीं करता है, क्योंकि उन्हें जवाब देना होगा। नीति पर कटाक्ष करना विपक्ष का अधिकार है, लेकिन संसद में बहस तो करिए।

5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी सिर्फ मोदी का सपना नहीं है। देश का सपना है। बुलंद सपना नहीं देखेंगे तो आगे कैसे बढ़ेंगे।
स्मृति ईरानी

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के भारत दौरे पर एक करोड़ लोगों के गुजरात में स्वागत करने के दावे पर स्मृति ईरानी ने अपने इस अंदाज में जवाब देते हुए कहा- ''मैं ट्रंप की प्रवक्ता नहीं हूं, मोदी की तो थोड़ी-बहुत हो सकती हूं।''

लिट्टी-चोखा पर ईरानी ने कहा-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने ने लिट्टी-चोखा क्या खाया सबकी नजर बिहार पर पड़ गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co