अयोध्या में CM योगी ने हनुमानगढ़ी और रामलला के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया

अयोध्या में CM योगी, हनुमानगढ़ी और रामलला का दर्शन कर अब प्रदेश भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा की कार्यसमिति की बैठक में शामिल हुए।
अयोध्या में CM योगी ने हनुमानगढ़ी और रामलला के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया
CM योगी ने हनुमानगढ़ी और रामलला के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त कियाPriyanka Sahu -RE

उत्तर प्रदेश, भारत। उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के आज 19 सितंबर को साढ़े चार साल पूरे होने के अवसर पर राज्‍य के CM योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंचे। यहां उन्‍होंने हनुमानगढ़ी और रामलला का दर्शन कर भगवान की पूजा कर भाजपा सरकार बनाने का आशीर्वाद लिया। इसके बाद प्रदेश भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा की कार्यसमिति की बैठक में शामिल हुए।

हनुमानगढ़ी में हनुमान जी के दर्शन कर मन अभिभूत है :

UP के CM योगी ने हनुमानगढ़ी और रामलला का दर्शन के बाद अपने ट्वीट में लिखा- मनोजवं मारुततुल्यवेगं जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठम्। वातात्मजं वानरयूथमुख्यं श्रीरामदूतं शरणं प्रपद्ये।। 'सेवा व सुरक्षा' के साढ़े चार वर्ष पूर्ण होने पर अयोध्या जी के श्री हनुमानगढ़ी में हनुमान जी के दर्शन कर मन अभिभूत है। संकटमोचन सबका कल्याण करें। जय बजरंगबली!

लोकाभिरामं रणरङ्गधीरं राजीवनेत्रं रघुवंशनाथम्। कारुण्यरुपं करुणाकरं तं श्रीरामचन्द्रं शरणं प्रपद्ये॥ उ.प्र. में 'सुशासन' के साढ़े चार वर्ष पूर्ण होने पर अयोध्या जी में श्री रामलला जी के दर्शन कर लोक कल्याण हेतु प्रार्थना की। प्रभु श्री राम की कृपा सभी पर बनी रहे। जय श्री राम!

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय में दोपहर 3.30 बजे ​​​​​ओबीसी मोर्चा की दो दिवसीय कार्यसमिति की अंतिम बैठक है। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, संगठन मंत्री सुनील बंसल व पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहिर शामिल होंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ओबीसी मोर्चा को जीत का मंत्र देकर बैठक का समापन करेंगे।

भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा कार्यसमिति की बैठक में CM योगी :

तो वहीं, CM योगी आदित्‍यनाथ प्रदेश भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा की कार्यसमिति की बैठक में कहा- जो लोग सामाजिक न्याय के नाम पर लोगों को गुमराह करके, जाति विद्वेष करके आपसी खाई गहरा करने का प्रयास करते थे, वे बेनकाब हुए हैं क्योंकि उन्होंने योजनाओं का लाभ गरीबों, पिछड़ों, दलितों, वंचितों को नहीं दिया। उन्होंने उनके हकों पर डकैती डालने का प्रयास किया। जब उनको सत्ता प्राप्त हुई केवल अपने परिवार और अपने खानदान के लिए कार्य करते रहे। उनका उद्देश्य समाज के लिए नहीं था। यही कारण है कि आम जनमानस ने उन्हें उठाकर फेंक दिया, दरकिनार कर दिया गया।

इससे पहले CM याेगी आज उत्‍तर प्रदेश सरकार की साढ़े चार वर्ष की उपलब्धियों के संबंध में प्रेस वार्ता कर अपनी सरकार की उपलब्धियों का बखान किया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.