उत्तर प्रदेश: बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद 'कानपुर चिड़ियाघर' बंद
उत्तर प्रदेश: बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद 'कानपुर चिड़ियाघर' बंदPriyanka Sahu -RE

उत्तर प्रदेश: बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद 'कानपुर चिड़ियाघर' बंद

उत्तर प्रदेश के कानपुर में बर्ड फ्लू की दस्तक, कानपुर चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद चिड़ियाघर को बंद कर दिया गया है। तो वहीं, UP के वन एवं पर्यावरण मंत्री ने कहा...

उत्तर प्रदेश, भारत। देश में महामारी कोरोना संकटकाल और कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की आफत के बीच नई-नई परेशानियां जन्‍म ले रही हैं। दरअसल, अब बर्ड फ्लू के फैलने से हाहाकार मचा हुआ है। भारत के कई राज्यों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) पांव पसार चुका है, अलग-अलग हिस्सों से पक्षियों के मरने की ख़बरें आ रही हैं। अब उत्तर प्रदेश के कानपुर में बर्ड फ्लू ने दस्तक दी है।

कानपुर चिड़ियाघर बंद :

जी हां, यूपी के कानपुर से पहला केस सामने आया है। यहां कानपुर चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। चिड़ियाघर में 4 पक्षियों की मौत के बाद चिड़ियाघर अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया है। चिड़ियाघर के बाहर नोटिस चस्पा कर पर्यटकों और मॉर्निंग वॉकर्स के आने पर रोक लगा दी गई है एवं चिड़ियाघर के अंदर बीमार पक्षियों को अलग रखकर उनका खास ख्याल रखा जा रहा है।

UP के वन एवं पर्यावरण मंत्री ने कहा-

तो वहीं, बर्ड फ्लू पर उत्तर प्रदेश के वन एवं पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान ने कहा- सबको सतर्क कर दिया है, पशुपालन विभाग इसमें काम कर रहा है। कानपुर में संभावना बनने के बाद कानपुर को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है, सैनिटाइजेशन हो रहा है। मुझे भरोसा है कि हम जल्दी ही बर्ड फ्लू पर काबू पा लेंगे।

बता दें कि, दो दिन पहले कानपुर चिड़ियाघर में चार पक्षियों की मौत हो गई थी एवं मृत पक्षियों में बर्ड फ्लू के लक्षण पाए गए थे। इस दौरान जू प्रशासन द्वारा इन पक्षियों को पोस्टमॉटर्म के लिए भोपाल रिसर्च सेंटर भेजा गया था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार, चारों पक्षियों की मौत बर्ड फ्लू की वजह से हुई है। इसी के चलते जू प्रशासन के साथ ही साथ स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है।

बर्ड फ्लू है एक प्रकार का फीवर :

बर्ड फ्लू एक प्रकार का फीवर होता है, जिसे एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस (H5N1) के नाम से भी जाना जाता है। यह बीमारी देश के कई राज्यों को बुरी तरह अपनी चपेट में ले चुका है। यह मुर्गी, बत्तख, कौवे, कबूतर, मोर जैसे पक्षियों द्वारा फैलने वाली बीमारी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co