उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की मौत
उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की मौत|Social Media
उत्तर भारत

उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना संक्रमण से मौत

उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार की मंत्री कमला रानी की लखनऊ के एक अस्‍पताल में आज मौत हो गई, उनके निधन की खबर आते ही CM योगी ने अपना अयोध्या दौरा रद्द कर दिया।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

उत्तर प्रदेश, भारत। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बना हुआ है, तो वहीं यह खतरनाक वायरस कोरोना मरीजों को अपना शिकार बनाने के बाद लोगों की जान भी निगल रहा है। इसी कोरोना काल में आज उत्तर प्रदेश से एक अति दुखद समाचार सामने आ रहा है कि, कोरोना से उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की मौत हो गई है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है और इसकी चपेट में नेता और बड़े-बड़े अधिकारी आने लगे हैं। इसी बीच 18 जुलाई को कोरोना संक्रमित कमल रानी वरुण का लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में कोरोना का इलाज चल रहा था, लेकिन वे कोरोना की जंग नहीं लड़ पाई और आज सुबह पीजीआई लखनऊ में कमला रानी की मौत हो गई है।

CM योगी का अयोध्या दौरा रद्द :

कैबिनेट की सहयोगी व टेक्निकल एजुकेशन मंत्री कमल रानी वरुण का कोरोना वायरस की वजह से मौत की खबर आते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सभी कार्यक्रम रद्द एवं अपना अयोध्या दौरा रद्द कर दिया। बता दें कि, CM योगी भूमि पूजन कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने जा रहे थे।

प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण का बीते कई दिनों से इलाज चल रहा था, वो कोरोना पॉजिटिव थीं। आज सुबह उनका दुखद निधन हुआ है, मैं श्रीमती कमल रानी वरुण के दुखद निधन पर उनकेप्रति कोटि-कोटि श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

कैबिनेट मंत्री श्रीमती कमल रानी वरुण के निधन पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक प्रकट कर ट्वीट में लिखा- उत्तर प्रदेश सरकार में मेरी सहयोगी, कैबिनेट मंत्री श्रीमती कमल रानी वरुण जी के असमय निधन की सूचना, व्यथित करने वाली है, प्रदेश ने आज एक समर्पित जननेत्री को खो दिया. उनके परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं. ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। ॐ शांति!

जानकारी के अनुसार, कैबिनेट मंत्री कमल रानी को दो दिन से बुखार आ रहा था। उन्होंने सिविल अस्पताल में ट्रनेट मशीन से जांच कराई, जिसके बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, सिविल अस्पताल के निदेशक डॉ़ डीएस. नेगी ने बताया, "फाइनल जांच के लिए सैंपल केजीएमयू भेजा गया है, जिसमें वह कोरोना पॉजिटिव आयी थीं। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने उन्हें पीजीआई में भर्ती कराया था। उन्हें सांस लेने में तकलीफ के चलते आईसीयू में रखा गया था। शनिवार रात को उनकी तबीयत विगड़ गई थी। रविवार सुबह अचानक तबीयत और बिगड़ी जिससे उनकी मौत हो गई।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co