Uttar Pradesh : काशी में 23 दिसंबर को अमूल प्लांट का शिलान्यास करेंगे मोदी
काशी में 23 दिसंबर को अमूल प्लांट का शिलान्यास करेंगे मोदीSyed Dabeer Hussain - RE

Uttar Pradesh : काशी में 23 दिसंबर को अमूल प्लांट का शिलान्यास करेंगे मोदी

किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयास के तहत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 23 दिसंबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अमूल संयंत्र का शिलान्यास करेंगे।

वाराणसी। किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयास के तहत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 23 दिसंबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अमूल संयंत्र का शिलान्यास करेंगे। पिंडरा ब्लॉक के करखियांव में बनने वाले अमूल प्लांट की दुग्ध उत्पादन क्षमता करीब पांच लाख लीटर होगी और इससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से करीब एक लाख लोगो को रोजगार मिलने की संभावना है। संयंत्र डेढ़ से दो साल में तैयार होने के आसार हैं। बनास काशी संकुल परियोजना 475 करोड़ के लागत से बनेगा।

बनारस-काशी संकुल परियोजना के मैनेजिंग डायरेक्टर संग्राम चौधरी ने मंगलवार को बताया कि इस प्लांट से पूर्वांचल के करीब दस जिलों के लोग लाभांवित होंगे। 30 एकड़ में बन रहे इस प्लांट में, करीब पांच लाख लीटर प्रतिदिन दूध का उत्पादन होगा। फैक्टरी में करीब 750 लोगो को प्लांट में प्रत्यक्ष रूप मर रोजगार मिलेगा और करीब 2,350 लोग फील्ड में अप्रत्यक्ष रूप से जुड़ेंगे। पूर्वांचल के किसानों, गोपालको समेत अन्य करीब 1 लाख लोग प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप रोजगार पाएंगे।

काशी में 23 दिसंबर को अमूल प्लांट का शिलान्यास करेंगे मोदी
UP के प्रयागराज में महिला सशक्तिकरण सम्मेलन में PM मोदी ने दी यह बड़ी सौगात

उन्होंने बताया कि 120 किलोमीटर के दायरे में चिलिंग सेंटर खुलेगा। कंपनी हर गांव में दूध कलेक्शन सेंटर खोलेगी। इसके लिए हर गांव में दुग्ध क्रय समिति बनाई जाएगी जो स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसेस के तहत दूध खरीदेंगी। निर्धारित समय पर कंपनी की गाड़ी से दूध का कलेक्शन किया जाएगा। इस प्लांट के खुलने से प्रति व्यक्ति आय बढ़ेगी। किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी। इस प्लांट में दूध के अलावा आइसक्रीम, पनीर, खोवा, घी, मक्खन का भी उत्पादन किया जाएगा।

प्रधानमंत्री करखियांव में जनसभा करने के साथ ही उत्तर प्रदेश के 1.74 लाख दुग्ध उत्पादकों को 35.19 करोड़ का बोनस भी ऑनलाइन ट्रांसफर करेंगे। कंपनी आगे भी अपने लाभ में से किसानों व गोपालकों को बोनस देती रहेगी।

अपने संक्षिप्त दौरे में प्रधानमंत्री लगभग 9 करोड़ की लागत से बने एक छत के नीचे तीन चिकित्सा पद्धति वाले अस्पताल का उद्घाटन करेंगे। अस्पताल में आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथी चिकित्सा पद्धति, योग और प्राकृतिक चिकित्सा से इलाज किया जायेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निगरानी में 50 बेड का एकीकृत आयुष चिकित्सालय ग्राम भदरासी विकास खंड आराजीलाइन में बन कर तैयार हो गया है। इस अस्पताल का निर्माण ऐसी जगह किया गया है, जिससे चंदौली, मिर्जापुर, भदोही और वाराणसी समेत चार जिलों के लोगों को स्वास्थ सुविधा का लाभ मिल सके।

इस अस्पताल का निर्माण राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत कराया गया है। क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी ने बताया कि भद्रासी में बनकर तैयार इस मल्टी-स्पेशियलिटी अस्पताल में मरीजों को आउटडोर के साथ ही इनडोर की चिकित्सा सुविधाएं भी मिलेंगी। अस्पताल में स्त्री एवं प्रसूति रोग चिकित्सकों के अलावा अन्य विशेषज्ञ चिकित्सक मरीजों का उपचार करेंगे। अस्पताल में सामान्य रोगों के साथ ही गठिया, पाइल्स, सर्वाइकल, शुगर, नेत्र आदि रोगों के उपचार की भी व्यवस्था है। इस आयुर्वेदिक अस्पताल में क्षार सूत्र एवं पंचकर्म विधि से भी उपचार की व्यवस्था होगी।

क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी भावना द्विवेदी ने बताया कि राष्ट्रीय आयुष मिशन और यूपी राज्य आयुष सोसाइटी मिलकर बना रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co