ताप लहरी से झुलसा उत्तर प्रदेश,राहत के आसार नहीं
ताप लहरी से झुलसा उत्तर प्रदेश,राहत के आसार नहींSocial Media

ताप लहरी से झुलसा उत्तर प्रदेश,राहत के आसार नहीं

उत्तर प्रदेश के अधिसंख्य इलाकों विशेषकर प्रयागराज,कानपुर और बुंदेलखंड में प्रचंड गर्मी और लू से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। राज्य के अधिसंख्य इलाकों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस पार कर चुका है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अधिसंख्य इलाकों विशेषकर प्रयागराज,कानपुर और बुंदेलखंड में प्रचंड गर्मी और लू से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। राज्य के अधिसंख्य इलाकों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस को पार कर चुका है।बांदा,चित्रकूट,कौशांबी,प्रयागराज,फतेहपुर,सोनभद्र,मिर्जापुर,कानपुर,इटावा,ओरैया,आगरा,जालौन, हमीरपुर,महोबा और झांसी में लू का प्रकोप कम से कम अगले 72 घंटों तक जारी रहने का अनुमान जताया है। विभाग के मुताबिक सप्ताह के अंत तक राज्य में गर्मी और लू के प्रकोप से राहत की कोई उम्मीद नहीं है। इस दौरान कुछ इलाकों में अधिकतम तापमान 47 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने के आसार हैं।

सुबह 11 बजे से ही प्रचंड गर्मी और लू के थपेड़ों से बचने के लिये लोग बाग घरों,दुकानो और दफ्तरों में दुबके रहने को मजबूर हैं जिसके चलते सड़कों और बाजारों में आमतौर पर देर शाम तक सन्नाटा पसरा रहता है। मौसम के तल्ख तेवरों का असर बाजार और माल पर साफ दिखायी दे रहा है। हालांकि शीतल पेय पदार्थो के स्टाल पर ग्राहकों की भीड़ देखी जा रही है। गर्मी के कारण विद्युत मांग में उल्लेखनीय इजाफा होने के बावजूद बिजली विभाग निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिये काफी मशक्कत कर रहा है मगर ट्रांसफार्मरों पर लोड बढने से स्थानीय फाल्टों की आवृत्ति में बढ़ोत्तरी बनी हुयी है।

गर्मी के मद्देनजर लखनऊ और कानपुर के प्राणि उद्यान में वन्य जीवों के लिये कूलर और पंखों का इंतजाम किया गया है। वन्य जीवों के स्वास्थ्य पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। प्राणी उद्यान की ओर रूख करने वालों की संख्या में काफी गिरावट दर्ज की गयी है, हालांकि वाटर पार्क की टिकट खिड़की पर काफी भीड़ जुट रही है। राज्य के अधिसंख्य इलाकों में स्कूल कालेजों में ग्रीष्मवकाश की घोषणा कर दी गयी है, मगर इंजीनियरिंग और मेडिकल कालेज खुले हुये हैं।

भीषण गर्मी के बीच अस्पतालों के बाहृय रोगी विभाग (ओपीडी) ठसाठस भरी हुयी है। मरीजों में ज्यादातर दस्त,उल्टी के शिकार हैं। चिकित्सकों ने सलाह दी है कि गर्मी से बचने के लिये घर से निकलने से पहले सिर और कानों को अच्छी तरह ढक लें और पेय पदार्थो का उपयोग करने में कोताही न बरतें। सिर दर्द की समस्या को हल्के में न लें, यह उच्च रक्तचाप और हृदय रोग के लक्षण हो सकते हैं। ऐसी दशा में छांव में बैठें,नीबूं शिकंजी,आम का पना और बेल का शर्बत जैसे पदार्थो का सेवन करें और दवा की जरूरत पड़ने पर चिकित्सक की सलाह जरूर लें।

मौसम विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटे में बांदा राज्य का सबसे गर्म इलाका रहा जहां अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वाराणसी,प्रयागराज,कानपुर,झांसी और मेरठ मंडल में अधिकतम तापमान सामान्य से तीन से पांच डिग्री सेल्सियस अधिक रहा वहीं अयोध्या,लखनऊ,बरेली,मुरादाबाद और आगरा मंडल में तापमान सामान्य से 1.6 से लेकर तीन डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया। रात के तापमान की बात करें तो इटावा पिछले 24 घंटे में सबसे कम तापमान वाला जिला रहा, जहां न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। विभाग के अनुसार गुरूवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश के इक्का दुक्का इलाकों में गरज चमक के साथ बूंदाबांदी का अनुमान है, हालांकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मौसम आमतौर पर शुष्क रहने के आसार हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co