कश्मीर में सदूरवर्ती इलाकों में यातायात बहाल करने के लिए युद्धस्तर अभियान
कश्मीर में सदूरवर्ती इलाकों में यातायात बहाल करने के लिए युद्धस्तर अभियानSocial Media

कश्मीर में सदूरवर्ती इलाकों में यातायात बहाल करने के लिए युद्धस्तर अभियान

उत्तरी कश्मीर के राजमार्ग में बर्फ जमा होने के कारण सोमवार को लगातार चौथे दिन भी यातायात प्रभावित रहा। एलओसी के पास के कई इलाकों में यातायात बहाल करने के लिए बर्फ हटाने का काम युद्धस्तर पर चल रहा है।

राज एक्सप्रेस। उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के राजमार्ग में बर्फ जमा होने के कारण सोमवार को लगातार चौथे दिन भी यातायात प्रभावित रहा। नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास के कई इलाकों में यातायात बहाल करने के लिए बर्फ हटाने का काम युद्धस्तर पर किया जा रहा है। इस दौरान सीमांत शहर गुरेज को राजमार्ग से फिर से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है, जो पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर से तीन और से घिरा हुआ है। राजदान दर्रे और उसके आसपास के क्षेत्रों में लगभग तीन से चार फुट बर्फ जमा होने के कारण एक जनवरी से घाटी से संपर्क नहीं हो सका है।

कुपवाड़ा के पुलिस नियंत्रण कक्ष के अधिकारी ने सोमवार को बताया कि मौसम में सुधार होने के बाद राजमार्ग से बर्फ हटाने का अभियान कुपवाड़ा-करनाह और कुपवाड़ा-मछिल के सड़कों युद्धस्तर पर शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि कुपवाड़ा-केरन रोड को तीनों दिनों के बाद रविवार को फिर से खोल दिया गया था जहां वर्तमान में मुंडेन तक यातायात सुचारू रूप से चल रहा है जो जो मुख्य शहर से कुछ किलोमीटर दूरी पर है। केरन शहर तक यातायात की बहाली के लिए बर्फ हटाने का अभियान युद्धस्तर पर चलाया जा रहा है।

बांदीपोरा उपायुक्त कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि बांदीपोरा-गुरेज के रोड पर तकरीबन बर्फ साफ हो गयी है और एक अप्रैल से यातायात के लिए इस मार्ग को फिर से खोल दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि अब केवल 12 किमी सड़क के हिस्से से बर्फ हटाना बाकी रह गया है। अधिकारी ने बताया कि मौसम में सुधार होने के बाद सीमावर्ती शहर और उसके आस-पास के इलाकों में यातायात बहाल करने के लिए आज सड़कों से बर्फ हटाने का काम फिर से शुरू कर दिया।

पिछले सप्ताह बांदीपोरा जिला मुख्यालय के साथ-साथ एलओसी के निकट गुरेज, नीरू और कई अन्य क्षेत्रों को जोड़ने वाले राजदान दर्रे में ताजा हिमपात हुआ था। राजदान दर्रे में लगभग डेढ़ फुट बर्फ जम गयी थी, जबकि डावर और तुलैल घाटी सहित अन्य स्थानों पर नौ इंच से एक फुट तक ताजा हिमपात हुआ।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co