आतंकवाद पर पाकिस्तान का दावा काल्पनिक - विदेश मंत्रालय
आतंकवाद पर पाकिस्तान का दावा काल्पनिक - विदेश मंत्रालयSocial Media

आतंकवाद पर पाकिस्तान का दावा काल्पनिक - विदेश मंत्रालय

पाकिस्तान संघर्ष विराम समझौते का पालन नहीं कर रहा है। वह भारतीय सीमा में आतंकवादियों की घुसपैठ करने के लिए लगातार गोलाबारी कर रहा है।

राज एक्सप्रेस। भारत ने रविवार को पाकिस्तान के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि पड़ोसी देश में आतंकवादी हमले में शामिल होने के 'सबूत होने' का दावा काल्पनिक है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने आज यहां कहा, '' यह भारत-विरोधी दुष्प्रचार की एक और व्यर्थ कवायद है। भारत के खिलाफ 'सबूत होने' के तथाकथित दावों की कोई प्रामाणिकता नहीं है और यह मनगढ़ंत और काल्पनिक है। अंतरराष्ट्रीय समुदाय उसकी चालों से वाकिफ है तथा पाकिस्तान के आतंकवाद को प्रायोजित करने के सबूतों को उसके स्वयं के नेतृत्व ने कबूल किया है।"

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में वैश्विक आतंकवादी 'ओसामा बिन लादेन' पाया गया था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने उसे संसद में शहीद बताया था। उन्होंने पाकिस्तान में 40 हजार आतंकवादियों के होना स्वीकार किया है। उनके विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री ने पुलवामा आतंकवादी हमले में अपने प्रधानमंत्री के नेतृत्व में पाकिस्तान के शामिल होने और सफलता का दावा किया। इस आतंकवादी हमले में 40 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान संघर्ष विराम समझौते का पालन नहीं कर रहा है। वह भारतीय सीमा में आतंकवादियों की घुसपैठ करने के लिए लगातार गोलाबारी कर रहा है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी आंतरिक राजनीतिक और आर्थिक विफलताओं से ध्यान हटाने के लिए जानबूझकर ऐसा प्रयास कर रहा है।

उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि पाकिस्तान में हुए कुछ आतंकी हमलों के पीछे भारत का हाथ है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co