31 मार्च तक नही चलेगीं पैसेंजर ट्रेन, क्या भारत होगा लॉक डाउन ?
31 मार्च तक नही चलेगीं पैसेंजर ट्रेन, क्या भारत होगा लॉक डाउन ?|Social Media
भारत

31 मार्च तक नही चलेगीं पैसेंजर ट्रेन, क्या भारत होगा लॉक डाउन ?

चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैल चुका है। भारत भी इस वायरस की चपेट में है। क्या 1 दिन के जनता कर्फ्यू को माना जाए लॉक डाउन का ट्रायल?

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस का प्रकोप पूरी दुनिया देख चुकी है। भारत सरकार इस वायरस को लेकर कितनी गंभीर है इस बात को आप ऐसे समझ सकते हैं कि देश के प्रधानमंत्री स्वयं जनता से जनता कर्फ्यू के लिए अपील करते हैं। भारतीय रेलवे द्वारा पहले 1 दिन के लिए पैसेंजर ट्रेन को बंद किया जाता है उसके बाद 31 मार्च तक बंद किए जाने का फैसला इस बात का साफ तौर पर संकेत देता है कि अगर जरूरत पड़ी तो निकट भविष्य में संपूर्ण भारत में लॉक डाउन की स्थिति बन सकती है और जिसके लिए भारत सरकार तैयार है।

इसे पहले भी प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को आह्वान किया था कि 22 मार्च को सुबह 7 बजे से 9 बजे के बीच 'जनता कर्फ्यू' का पालन करें। उन्होंने कहा था कि आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को छोड़कर कोई भी नागरिक अपने घर से बाहर न निकले। उन्होंने कहा था कि यह कोरोना वायरस से निपटने के लिए भारत की तैयारी प्रदर्शित करने की एक परीक्षा होगी। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने इसे समय की जरूरत बताते हुए देश में सभी से इस कदम का समर्थन करने को कहा था।

आपको बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी जिसके परिणाम स्वरूप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के लोगों से रविवार को घर के अंदर रहने की अपील की। मुख्यमंत्री की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि, रविवार को मेट्रो ट्रेनें, रोडवेज बसें और सिटी बसें रविवार को नहीं चलेंगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि रविवार को 50 प्रतिशत बसें ही सड़कों पर चलेंगी।

भारत सरकार के दिशा निर्देश के बाद स्कूल, कॉलेज, जिम, मॉल इत्यादि सभी सामाजिक मेलजोल वाले संस्थान को लगभग बंद कर दिया गया है। रविवार को जनता कर्फ्यू के लिए भी प्रधानमंत्री मोदी ने स्वयं अपील की थी। अगर निकट भविष्य में कोरोना वायरस का संक्रमण देश में फैलता है तो संभावना है कि भारत को पूर्ण रूप से लॉक डाउन भी किया जा सकता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co