Mann Ki Baat: मन की बात में PM मोदी ने सत्ता व सेवा को लेकर कही यह अहम बात
PM मोदी के मन की बात कार्यक्रम की 83वीं कड़ीSyed Dabeer Hussain - RE

Mann Ki Baat: मन की बात में PM मोदी ने सत्ता व सेवा को लेकर कही यह अहम बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम के जरिए राष्‍ट्र को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान आज उन्‍होंने क्‍या खास विचार साझा किए, यहां देखें...

Mann Ki Baat: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर माह के आखिरी रविवार को अपने साप्‍ताहिक प्रसिद्ध रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के माध्यम से राष्ट्र को संबोधित करते आ रहे हैं। अब आज नवंबर महीने का अंतिम रविवार है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम का 83 वां संस्करण है। इस दौरान उन्होंने आयुष्मान योजना के लाभार्थियों के साथ बातचीत भी की।

अमृत महोत्सव पर बोले PM मोदी :

मन की बात कार्यक्रम की 83वीं कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- दिसंबर महीने Navy Day और Armed Forces Flag Day भी देश मनाता है। हम सबको मालूम है, 16 दिसम्बर को 1971 के युद्ध का स्वर्णिम जयन्ती वर्ष भी देश मना रहा है। मैं इन सभी अवसरों पर देश के सुरक्षा बलों का स्मरण करता हूं, हमारे वीरों का स्मरण करता हूं। अमृत महोत्सव, सीखने के साथ ही हमें देश के लिए कुछ करने की भी प्रेरणा देता है, अब तो देश-भर में आम लोग हों या सरकारें, पंचायत से लेकर parliament तक, अमृत महोत्सव की गूंज है और लगातार इस महोत्सव से जुड़े कार्यक्रमों का सिलसिला चल रहा है।

PM मोदी ने बताया कि, "आजादी में अपने जनजातीय समुदाय के योगदान को देखते हुए देश ने जनजातीय गौरव सप्ताह भी मनाया है। देश के अलग-अलग हिस्सों में इससे जुड़े कार्यक्रम भी हुए। अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में जारवा और ओंगे, ऐसे जनजातीय समुदायों के लोगों ने अपनी संस्कृति का जीवंत प्रदर्शन किया।"

पिछले दिनों दिल्ली में 'आजादी की कहानी-बच्चों की जुबानी’ कार्यक्रम में बच्चों ने स्वाधीनता संग्राम से जुड़ी गाथाओं को प्रस्तुत किया। खास बात ये रही कि, इसमें भारत के साथ नेपाल, मौरिशस, तंजानिया, न्यूजीलैंड और फीजी के स्टूडेंट्स भी शामिल हुए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

PM मोदी द्वारा मन की बात में कहीं गई प्रमुख बातें-

  • वृन्दावन के बारे में कहा जाता है कि, ये भगवान के प्रेम का प्रत्यक्ष स्वरूप है। हमारे संतों ने भी कहा है– यह आसा धरि चित्त में, यह आसा धरि चित्त में, कहत जथा मति मोर। वृंदावन सुख रंग कौ, वृंदावन सुख रंग कौ, काहु न पायौ और।

  • हमारे स्वतंत्रता संग्राम में झांसी और बुंदेलखंड का कितना बड़ा योगदान है, ये हम सब जानते हैं। यहां रानी लक्ष्मीबाई और झलकारी बाई जैसी वीरांगनाएं भी हुईं और मेजर ध्यानचंद जैसे खेल रत्न भी इस क्षेत्र ने देश को दिये हैं।

  • प्रकृति से हमारे लिये खतरा तभी पैदा होता है जब हम उसके संतुलन को बिगाड़ते हैं या उसकी पवित्रता नष्ट करते हैं। प्रकृति मां की तरह हमारा पालन भी करती है और हमारी दुनिया में नए-नए रंग भी भरती है।

  • अभी मैं social media पर देख रहा था, मेघालय में एक flying boat की तस्वीर खूब viral हो रही है। पहली ही नज़र ये तस्वीर हमें आकर्षित करती है। आपमें से भी ज्यादातर लोगों ने इसे online जरूर देखा होगा। नदी का पानी इतना साफ़ है कि हमें उसकी तलहटी दिखती है।

  • हमारे देश में अनेक राज्य हैं, अनेक क्षेत्र है जहां के लोगों ने अपनी प्राकृतिक विरासत के रंगों को संजोकर रखा है। इन लोगों ने प्रकृति के साथ मिलकर रहने की जीवनशैली आज भी जीवित रखी है। ये हम सबके लिए भी प्रेरणा है।

  • हमारे आस-पास जो भी प्राकृतिक संसाधन है, हम उन्हें बचाएं, उन्हें फिर से उनका असली रूप लौटाएं। इसी में हम सबका हित है, जग का हित है।

  • सरकार के प्रयासों से, सरकार की योजनाओं से कैसे कोई जीवन बदला उस बदले हुए जीवन का अनुभव क्या है? जब ये सुनते हैं तो हम भी संवेदनाओं से भर जाते हैं। यह मन को संतोष भी देता है और उस योजना को लोगों तक पहुंचाने की प्रेरणा भी देता है।

  • जालौन में एक पारंपरिक नदी है- नून नदी। नून यहां के किसानों के लिए पानी प्रमुख स्रोत हुआ करती थी। लेकिन धीरे-धीरे नून नदी लुप्त होने के कगार पर पहुंच गई। जालौन के लोगों ने इस स्थिति को बदलने का बीढ़ा उठाया। आज इतने कम समय में ये नदी फिर जीवित हो गई है।

मैं आज भी सत्ता में नहीं हूं और भविष्य में भी सत्ता में जाना नहीं चाहता हूं। मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं। मेरे लिए ये पद, सत्ता के लिए है ही नहीं, सेवा के लिए है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

युवाओं से समृद्ध हर देश में तीन चीजें बहुत मायने रखती हैं।

  • पहली चीज है – Ideas और Innovation

  • दूसरी है – जोखिम लेने का जज्बा

  • तीसरी है – Can Do Spirit, यानी किसी भी काम को पूरा करने की जिद्द

जब ये 3 चीजें आपस में मिलती हैं तो अभूतपूर्व परिणाम मिलते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co