PM Modi address Nation
PM Modi address Nation|Social Media
भारत

हिंदुस्तान को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से पूरा देश लॉकडाउन: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने संबोधन में क्या-क्या कहा और देशवासियों से क्‍या गुहार लगाई यहां जाने विस्‍तार से उनका पूरा संबोधन...

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। इन दिनों भारत में जो परिस्थितियां हैं, वैसी तो शायद युद्धकाल के दौरान भी नहीं देखी गईं, जो अब वैश्विक महामारी 'कोरोना वायरस' को लेकर हैं... इन्‍हीं हालातों के बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (24 मार्च) को फिर से रात 8 बजे राष्‍ट्र को संबोधित किया है और देशवासियों से ये गुहार लगाई।

जनता कर्फ्यू का किया जिक्र :

सबसे पहले PM मोदी ने कहा- 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प हमने लिया था, एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता के साथ पूरी जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन में कोरोना वायरस से बचाव के लिए किया बड़ा ऐलान और कहा- कोरोनावायरस से हिंदुस्तान को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। वायरस के इस संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन होने जा रहा है। इसके साथ ही PM मोदी ने कहा कि, 21 दिन नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा।

PM मोदी ने अपने संबोधन में कही ये बातें :

  • PM मोदी ने जनता से हिंदुस्तान और हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है यानी आज रात 12 बजे से पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया है।

  • पिछले 2 दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है ।

  • PM ने कहा, राज्य सरकारों के इन प्रयासों को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए।

  • कुछ लोगों की लापरवाही, कुछ लोगों की गलत सोच, आपको, आपके बच्चों को, आपके माता-पिता को, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को, पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी।

  • एक ही काम करें आप अपने घर में रहें, आज के फैसले ने देशव्यापी लॉकडाउन ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है।

  • हमें भी ये मानकर चलना चाहिए कि हमारे सामने यही एक मार्ग है, हमें घर से बाहर नहीं निकलना है, चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना है।

  • इतना ही नहीं आगे मोदी जी ने यह भी कहा है कि उपाय क्या है, विकल्प क्या है? कोरोना से निपटने के लिए उम्मीद की किरण, उन देशों से मिले अनुभव हैं जो कोरोना को कुछ हद तक नियंत्रित कर पाए

  • कोरोना वैश्विक महामारी पर PM ने कहा, पूरी दुनिया की स्थिति को समाचारों के माध्यम से सुन रहे हैं और देख भी रहे हैं, दुनिया के समर्थ से समर्थ देशों को भी कैसे इस महामारी ने बिल्कुल बेबस कर दिया है।

  • कोरोना के मरीजों के इलाज, हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत बनाने के लिए 15 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इससे कोरोना से जुड़ी टेस्टिंग फेसिलिटीज, इक्वीपमेंट्स, Isolation Beds, ICU beds, ventilators और अन्य जरूरी साधनों की संख्या तेजी से बढ़ेगी।

आज सुबह ही PM मोदी ने ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी थी कि, 'कोरोना वायरस' के बढ़ते प्रकोप के संबंध में वे कुछ महत्वपूर्ण बातें देशवासियों के साथ साझा करेंगे।

बता दें कि, इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने 19 मार्च शाम 8 बजे घर के एक मुखिया की तरह देश की जनता को संबोधित करते हुए 'जनता कर्फ्यू' के अलावा कोरोना से बचने के उपाय सहित बहुत सी बातें कीं थीं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co