कोरोना काल में PM मोदी ने बताया योग का खास महत्व
कोरोना काल में PM मोदी ने बताया योग का खास महत्व|Twitter
भारत

#InternationalYogaDay:कोरोना काल में PM मोदी ने बताया योग का खास महत्व

#InternationalYogaDay: PM मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय दिवस योग पर देश को संबोधित कर कहा, आप प्राणायाम को अपने प्रतिदिन के अभ्यास में शामिल करिए और अनुलोम-विलोम के साथ दूसरी प्राणायाम तकनीक को भी सीखिए।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

#InternationalYogaDay : जैसे की सभी जानते है हमारी भारतीय संस्‍कृति का योग अभिन्‍न हिस्‍सा रहा है और सनातन संस्‍कृति में सदियों से योग को सेहतमंद जीवन के लिए आधार माना है। इसी के चलते योग से होने वाले फायदों के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए दुनियाभर में 'अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस' मनाया जाता है और इस वर्ष की थीम भी कोरोना प्रकोप नियंत्रण उपाय पर ही केंद्रित है। इसी बीच आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'छटवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस' पर देश को संबोधित किया।

योग दिवस की दी बधाई और शुभकामनाएं :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग दिवस पर मंत्र देते हुए अपने संबोधन में शुरूआत में सबसे पहले कहा- छठे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की आप सभी को बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का ये दिन एकजुटता का दिन है, ये विश्व बंधुत्व के संदेश का दिन है। बच्चे, बड़े, युवा, परिवार के बुजुर्ग, सभी जब एक साथ योग के माध्यम से जुड़ते हैं, तो पूरे घर में एक ऊर्जा का संचार होता है। इसलिए, इस बार का योग दिवस, भावनात्मक योग का भी दिन है, हमारी फैमिली बॉन्डिंग को भी बढ़ाने का दिन है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ''COVID-19 वायरस खासतौर पर हमारे श्वसन तंत्र, यानि कि श्वसन प्रणाली पर अटैक करता है। हमारी श्वसन प्रणाली को स्ट्रॉन्ग करने में जिससे सबसे ज्यादा मदद मिलती है वो है प्राणायाम, यानि कि साँस लेने का व्यायाम... आप प्राणायाम को अपने प्रतिदिन के अभ्यास में जरूर शामिल करिए और अनुलोम-विलोम के साथ-साथ दूसरी प्राणायाम तकनीक को भी सीखिए और उनको सिद्ध कीजिये।''

स्वामी विवेकानंद कहते थे- “एक आदर्श व्यक्ति वो है जो नितांत निर्जन में भी क्रियाशील रहता है और अत्यधिक गतिशीलता में भी सम्पूर्ण शांति का अनुभव करता है” किसी भी व्यक्ति के लिए ये एक बहुत बड़ी क्षमता होती है।

PM मोदी ने बताया योग का महत्‍व :

  • योग का साधक कभी संकट में धैर्य नहीं खोता है। योग का अर्थ ही है- ‘समत्वम् योग उच्यते’ अर्थात, अनुकूलता-प्रतिकूलता, सफलता-विफलता, सुख-संकट, हर परिस्थिति में समान रहने, अडिग रहने का नाम ही योग है।

  • जब हम योग के माध्यम से समस्याओं के समाधान और दुनिया के कल्याण की बात कर रहे हैं, तो मैं योगेश्वर कृष्ण के कर्मयोग का भी आपको पुनः स्मरण करना चाहता हूं। गीता में भगवान कृष्ण ने योग की व्याख्या करते हुए कहा है- ‘योगः कर्मसु कौशलम्’ अर्थात्, कर्म की कुशलता ही योग है।

  • हमारे यहां कहा गया है- युक्त आहार विहारस्य, युक्त चेष्टस्य कर्मसु। युक्त स्वप्ना-व-बोधस्य, योगो भवति दु:खहा।। अर्थात्, सही खान-पान, सही ढंग से खेल-कूद, सोने-जागने की सही आदतें, और अपने काम, अपनी ड्यूटीज को सही ढंग से करना ही योग है।

  • हमारे यहां निष्काम कर्म को बिना किसी स्वार्थ के, सभी का उपकार करने की भावना को भी कर्मयोग कहा गया है। कर्मयोग की ये भावना भारत के रग रग में बसी हुई है।

  • एक सजग नागरिक के रूप में हम परिवार और समाज के रूप में एकजुट होकर आगे बढ़ेंगे। हम प्रयास करेंगे कि Yoga at home and Yoga with family को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं। हम जरूर सफल और विजयी होंगे।

योग दिवस विश्व बंधुत्व के संदेश का दिन :

इस दौरान PM नरेंद्र मोदी ने ये भी कहा कि, ''योग दिवस विश्व बंधुत्व के संदेश का दिन है। जो हमें जोड़े, साथ लाये, वही तो योग है। जो दूरियों को खत्म करे, वही तो योग है। कोरोना संकट के दौरान दुनिया भर के लोगों का #MyLifeMyYoga वीडियो ब्लॉगिंग कंपटीशन में हिस्सा लेना, दिखाता है कि योग के प्रति उत्साह कितना बढ़ रहा है।''

एक सजग नागरिक के रूप में हम परिवार और समाज के रूप में एकजुट होकर आगे बढ़ेंगे। हम प्रयास करेंगे कि, घर पर योग और परिवार के साथ योग (Yoga at home and Yoga with family) को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं। हम जरूर सफल होंगे, हम जरूर विजयी होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

उन्‍होंने कहा- हमारी Immunity strong हो तो कोरोना को हराने में बहुत मदद मिलती है। कोरोना खासतौर पर हमारे श्वसन तंत्र पर attack करता है। हमारे श्वसन तंत्र को Strong करने में जिससे सबसे ज्यादा मदद मिलती है वो है प्राणायाम, यानि कि साँस लेने का व्यायाम (Breathing Exercise)।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co