तमिलनाडु में PM मोदी
तमिलनाडु में PM मोदी Social Media

तमिलनाडु में PM मोदी गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के दीक्षांत समारोह में हुए शामिल, दिया यह संबोधन

तमिलनाडु में PM नरेंद्र मोदी ने गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के दीक्षांत समारोह में कहा, गांधीग्राम में दीक्षांत समारोह में आना मेरे लिए एक प्रेरणादायक क्षण है।

तमिलनाडु, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शुक्रवार को दक्षिण भारत की यात्रा पर है, कर्नाटक के बेंगलुरु में विभिन्‍न कार्यक्रमों के बाद अब वे तमिलनाडु पहुंचे है। यहां उन्‍होंनें गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के दीक्षांत समारोह में हिस्‍सा लिया।

गांधीग्राम में दीक्षांत समारोह एक प्रेरणादायक क्षण है :

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के दीक्षांत समारोह को संबोधित कर कहा- मैं उन सभी महान बुद्धिजीवियों को बधाई देता हूं जिन्होंने आज अपना पाठ्यक्रम पूरा किया है और साथ ही उनके माता-पिता भी जिनके बलिदानों ने आखिरकार इसे संभव बनाया है। गांधीग्राम में दीक्षांत समारोह में आना मेरे लिए एक प्रेरणादायक क्षण है क्योंकि इस संस्थान का उद्घाटन स्वयं महात्मा गांधी ने किया था।

उन्‍होंने कहा कि, ''मित्रों, आप सभी एक महत्वपूर्ण समय पर स्नातक हो रहे हैं क्योंकि गांधीवादी मूल्य आज बहुत प्रासंगिक होते जा रहे हैं। चाहे वह संघर्षों को समाप्त करने के बारे में हो या जलवायु संकट के बारे में, गांधी के विचारों में आज की कई चुनौतियों का समाधान है। और आप सभी के पास बड़े प्रभाव डालने का एक शानदार अवसर है।''

खादी महात्मा के दिल के बहुत करीब थी। और आज यह काफी लोकप्रिय हो गई है। पिछले 8 वर्षों में खादी की बिक्री में 300 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है। KVIC ने रुपये का रिकॉर्ड कारोबार दर्ज किया है। 1 लाख करोड़, पिछले साल।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समारोह में यह बात भी कही कि, ''महात्मा गांधी चाहते थे कि गांव आत्मनिर्भर बनें और ग्रामीण विकास की हमारी दृष्टि गांधी से प्रेरणा लेती है - 'आत्मा गांव की- सुविधा शहर की' शहरी और ग्रामीण जीवन शैली के बीच अंतर हो सकता है, लेकिन असमानता नहीं। आज देश विभाजन को खत्म करने के लिए काम कर रहा है।''

  • गांधी जी के लिए उचित स्वच्छता सुनिश्चित करना एक बड़ी चिंता थी। इस दिशा में हमारी सरकार ने पूर्ण ग्रामीण स्वच्छता कवरेज, 6 करोड़ से अधिक नल के पानी के कनेक्शन और 2.5 करोड़ से अधिक बिजली कनेक्शन प्रदान किए।

  • ग्रामीण सड़कों का विकास किया जा रहा है, और विकास लोगों के घर-द्वार तक पहुंच रहा है।

  • सतत कृषि ग्रामीण क्षेत्रों के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है। प्राकृतिक खेती के लिए बहुत उत्साह है क्योंकि यह उर्वरक आयात पर देश की निर्भरता को कम करता है। यह मिट्टी और इंसानों के स्वास्थ्य दोनों के लिए भी अच्छा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co