दिल्ली IIT के 51वें दीक्षांत समारोह में छात्रों को PM मोदी का संदेश

दिल्ली IIT के 51 वें दीक्षांत समारोह को PM मोदी ने संबोधित किया, इस दौरान उन्‍होंने छात्रों को आत्मनिर्भर भारत और नवीनीकरण पर बल देने का संदेश दिया। जानें उनके संबोधन की प्रमुख बातें...
दिल्ली IIT के 51वें दीक्षांत समारोह में छात्रों को PM मोदी का संदेश
दिल्ली IIT के 51वें दीक्षांत समारोह में छात्रों को PM मोदी का संदेशTwitter

दिल्‍ली, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 7 नवंबर को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT Delhi) के 51वें वार्षिक दीक्षांत समारोह के अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से IIT- दिल्ली के छात्रों को संबोधित किया और छात्रों को आत्मनिर्भर भारत और नवीनीकरण पर बल देने का संदेश दिया।

कोरोना दुनिया मे बहुत बड़े बदलाव लेकर आया :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- कोरोना का यह संकट काल दुनिया मे बहुत बड़े बदलाव लेकर आया है। Post COVID world बहुत अलग होने जा रहा है और इसमें बहुत बड़ी भूमिका टेक्नोलॉजी की ही होगी। आत्मनिर्भर भारत अभियान की सफलता के लिए ये बहुत बड़ी ताकत है। कोविड-19 ने दुनिया को एक बात और सिखा दी है। Globalization महत्वपूर्ण है, लेकिन इसके साथ-साथ Self-Reliance भी उतना ही जरूरी है।

PM की छात्रों से अपील-नए इनोवेशन लेकर आइए :

IIT Delhi के वार्षिक दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने छात्रों से अपील की कि, '' वे नए इनोवेशन लेकर आएं, देश में स्टार्टअप के लिए अपार संभावनाएं हैं। पहली बार एग्रीकल्चर सेक्टर में इनोवेशन और नए स्टार्टअपस के लिए इतनी संभावनाएं बनी हैं। पहली बार स्पेस सेक्टर में प्राइवेट इनवेस्टमेंट के रास्ते खुले हैं। 2 दिन पहले ही, BPO सेक्टर के Ease of doing business के लिए भी एक बड़ा रिफॉर्म किया गया है।''

ऐसे प्रावधान जो Tech Industry को Work From Home या फिर Work From Anywhere जैसी सुविधाओं से रोकते थे, उनको भी हटा दिया गया है। ये देश के IT Sector को Globally और Competitive बनाएगा और आप जैसे Young Talent को और ज्यादा मौके देगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

इनोवेशन पर मोदी का मंत्र :

इसके साथ प्रधानमंत्री मोदी ने ये भी कहा- आज देश हर क्षेत्र की अधिकतम संभावनाओं को हासिल करने के लिए नए तौर-तरीकों से काम कर रहा है। आप जब यहां से जाएंगे, नई जगह पर काम करेंगे तो आपको भी एक नए मंत्र को लेकर काम करना होगा। टेक्नॉलॉजी की जरूरत और इसके प्रति भारतीयों में आस्था, यही आपके भविष्य को रोशनी दिखाती है। आपके इनोवेशन ऐसे होने चाहिए जिससे कि व्यापक स्तर पर लोगों के जीवन स्तर में बदलाव आए।

प्रधानमंत्री मोदी ने छात्रों को कहा कि, ''आप सभी के अंदर असाधारण क्षमता है, क्योंकि आप दुनिया की सबसे कठिन परीक्षा पास करके आए हैं और उसके बाद आईआईटी में पहुंचे हैं। यह जरूरी है कि आप पूरे जीवन में खुद को एक छात्र ही मानें और हमेशा कुछ न कुछ सीखते रहें। कभी भी यह न सोचें कि आपको सबकुछ आता है।''

बता दें कि, दिल्ली IIT के दीक्षांत समारोह में PM मोदी के साथ शिक्षा मंत्री (Education Minister) रमेश पोखरियाल निशंक और शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे भी मौजूद रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co