CoWIN Global Conclave में PM मोदी का संबोधन- महामारी कोरोना पर दिए ये विचार
CoWIN Global Conclave में PM मोदी का संबोधन- महामारी कोरोना पर दिए ये विचारTwitter

CoWIN Global Conclave में PM मोदी का संबोधन- महामारी कोरोना पर दिए ये विचार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 'कोविन ग्लोबल कॉन्क्लेव' (CoWIN Global Conclave) को संबोधित करते हुए महामारी में  'प्रौद्योगिकी'  के महत्व को बताया।

दिल्ली, भारत। प्रधानमंत्री मोदी ने आज साेमवार को कोविन ग्लोबल कॉन्क्लेव (CoWIN Global Conclave) को संबोधित किया। इस दौरान सबसे पहले उन्‍होंने विश्व के सभी देशों में महामारी में जान गंवाने वाले लोगों के प्रति अपनी गहरी संवेदना प्रकट की। साथ ही महामारी में  'प्रौद्योगिकी'  के महत्व को बताया।

जान गंवाने वाले लोगों के प्रति गहरी संवेदना की प्रकट :

कोविन ग्लोबल कॉन्क्लेव में PM मोदी ने कोरोना महामारी को लेकर कहा- कोरोना संक्रमण से जितने भी देशों में लोगों की मृत्यु हुई हैं, मैं उन सभी लोगों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। कोई भी राष्ट्र कितना भी मजबूत क्यों ना हो लेकिन वह इस तरह की महामारी का सामना अकेले नहीं कर सकता है। कोरोना संक्रमण से उभरने के लिए वैक्सीनेशन एक उम्मीद है।

हमने शुरू से ही वैक्सीनेशन अभियान को डिजिटल माध्यम से जोड़ा है। हम सभी को एक साथ मिलकर आगे बढ़ना होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारतीय सभ्यता पूरे विश्व को एक परिवार मानती है :

PM मोदी ने कहा, ''प्रौद्योगिकी कोविड-19 के खिलाफ हमारी लड़ाई का अभिन्न अंग है। सौभाग्य से सॉफ्टवेयर एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें संसाधनों की कोई कमी नहीं है। इसलिए हमने तकनीकी रूप से संभव होते ही अपने कोविड ट्रेसिंग और ट्रैकिंग ऐप को ओपन सोर्स बना दिया। भारतीय सभ्यता पूरे विश्व को एक परिवार मानती है। इसलिए, कोविड टीकाकरण के लिए हम अपने टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म-CoWIN को ओपन सोर्स बनाने के लिए तैयार किया जा रहा है।''

प्रधानमंत्री ने कहा- महामारी से निजात पाने में वैक्सीनेशन बेहतर उम्मीद है और शुरुआत से भारत में हमने वैक्सीनेशन के लिए हमने डिजिटल तरीका ही अपनाने का फैसला किया। साथ ही महामारी कोविड-19 से संघर्ष में तकनीक की अहम भूमिका पर जोर देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ''हम जल्द ही हमारे कोविड ट्रेसिंग व ट्रैकिंग एप का ओपन सोर्स मुहैया कराएंगे।''

क्‍या था कोविन कॉन्क्लेव का मकसद :

बता दें कि, कोविन कॉन्क्लेव में कई देशों का प्रतिनिधित्व करने वाले हेल्थ और टेक्नोलॉजी से जुड़े एक्सपर्ट शामिल हुए। कॉन्क्लेव का मकसद कोविन प्लेटफॉर्म के जरिए कोरोना से लड़ने के लिए यूनिवर्सल वैक्सीनेशन के संबंध में भारत के अनुभव को साझा करना है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co